दिल्ली हाईवे पर ट्रक व ट्राले की आमने-सामने भिड़ंत, एक ड्राइवर की मौत

0
583

गुरुवार तड़के चार बजे दिल्ली हाईवे पर शंकराचार्य चैक के पास एक ट्रक व ट्राले के बीच आमने-सामने की टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों वाहनों के आगे के हिस्से क्षतिग्रस्त हो गए। जिसमें ड्राइवर, क्लीनर व मजदूर अंदर फंस गए। हादसे की सूचना पर मायापुर फायर ब्रिगेड की टीम ने कटर से क्षतिग्रस्त हिस्से को काटकर ड्राइवर, क्लीनर व मजदूरों को बाहर निकाला। उपचार के लिए अस्पताल भेजा। जहां एक ड्राइवर को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

ईंटों से भरा एक ट्रक सिंहद्वार से चंडीघाट चैकी की तरफ जा रहा था। सामने से एक ट्राला आ रहा था। शंकराचार्य चैक के पास दोनों की आमने सामने की भिड़ंत हो गई। जोरदार टक्कर लगने पर दोनों वाहनों के आगे का हिस्सा अंदर की तरफ धंस गया। हादसे के बाद चीख पुकार मच गई।

तेज आवाज सुनकर आस पास के लोग भी घरों व ढाबे से बाहर निकल आए। सूचना पर कनखल पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और घायलों को ट्रकों से बाहर निकालने का प्रयास करने लगे। लेकिन लहूलुहान ड्राइवर, क्लीनर व मजदूर अंदर फंसे हुए थे। तब सिटी कंट्रोल रूम के माध्यम से फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई। मायापुर से दमकल की टीम ने बचाव शुरू किया। कटर से काटकर मशक्कत के बाद घायलों को बाहर निकाला गया और अस्पताल भेजा गया।

फायर ब्रिगेड की मुस्तैदी आई काम

दोनों ट्रकों की भिड़ंत होने पर लहूलुहान हालत में अंदर फंसे घायलों की हालत लगातार नाजुक होती जा रही थी। खून बहने के साथ ही घायल बुरी तरह दबे और फंसे हुए थे। मुख्य अग्निशमन अधिकारी राजेंद्र खाती ने बताया कि ट्रक के तेल टैंक से लगातार डीजल बह रहा था। कटर चलाने पर चिंगारी से आग पकड़ने का खतरा बना हुआ था। घायलों की जान अंदर फंसी होने से टीम को चुस्ती दिखानी थी लेकिन सावधानी भी जरूरी थी। लीडिंग फायरमैन प्रताप सिंह राणा, फायरमैन मदन लाल, शैलेंद्र कुमार, नरेश कुमार ने मिलकर मुस्तैदी से घायलों को बाहर निकाला। समय से अस्पताल ले जाने से उनकी जान बचा ली गई।

LEAVE A REPLY