हाइड्रो प्रोजेक्ट की टनल से शवों के मिलने का सिलसिला लगातार जारी

0
412

देहरादून। LIVE Uttarakhand Glacier Burst तपोवन में एनटीपीसी के निर्माणाधीन हाइड्रो प्रोजेक्ट की टनल से शवों के मिलने का सिलसिला लगातार जारी है। डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान सुरंग से तीन शव बरामद किए गए हैं। बचाव अभियान अगले 3-4 दिनों तक जारी रहेगा। इसके अलावा एक शव मैठाणा से बरामद हुआ है। आपको बता दें कि आपदा के बाद से ही टनल के नीचे एसएफटी (सिल्ट फ्लशिंग टनल) तक पहुंचने में बाधा बन रहे मलबे के विकल्प के तौर पर आजमाया गया ड्रिलिंग का काम रविवार को अंजाम तक तो पहुंचा, लेकिन जिंदगियों को बचाने के लिए पिछले आठ दिनों से चलाए जा रहे रेस्क्यू आपरेशन के हौसले पस्त कर दिए।

हाइड्रो प्रोजेक्ट की टनल से शवों के मिलने का सिलसिला लगातार जारी

शवों की शिनाख्त नहीं हो पाई है उन सभी के डीएनए सैंपल संरक्षित किए

अब तक कुल बरामद किए गए कुल 55 शवों और 22 मानव अंगों में से 29 शवों और एक मानव अंग की शिनाख्त की जा चुकी है। जिन शवों की शिनाख्त नहीं हो पाई है उन सभी के डीएनए सैंपल संरक्षित किए गए हैं।

179 लोगों की गुमशुदगी दर्ज

एसएफटी के मलबे से पटे होने की जानकारी मिलने से रेस्क्यू टीम, प्रशासन और हाइड्रो प्रोजेक्ट टनल में फंसे व्यक्तियों के स्वजनों को निराश कर दिया। अब तक कुल बरामद किए गए कुल 55 शवों और 22 मानव अंगों में से 29 शवों और एक मानव अंग की शिनाख्त की जा चुकी है। जिन शवों की शिनाख्त नहीं हो पाई है, उन सभी के डीएनए सैंपल संरक्षित किए गए हैं। इसके अलावा जोशीमठ थाने में अब तक कुल 179 लोगों की गुमशुदगी दर्ज की जा चुकी है, जबकि अब तक कुल 55 परिजनों के डीएनए सैंपल शिनाख्त में सहायता के लिए लिए गए हैं। राहत और बचाव कार्य लगातार जारी है।

Kumaun University: एसएसजे के एमएड के विद्यार्थियों ने किया नुक्कड़ नाटक

Leave a Reply