Kangana Ranaut Slap Case : कुलविंदर कौर के समर्थन में आई पंजाब किसान कांग्रेस

12

Kangana Ranaut Slap Case : कंगना रणौत-कॉन्स्टेबल कुलविंदर कौर विवाद में पंजाब किसान कांग्रेस भी कूद पड़ी है। पंजाब किसान कांग्रेस के प्रमुख किरणजीत सिंह ने सीआईएसएफ महिला कांस्टेबल का समर्थन किया है और मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है। वहीं उन्होंने इस घटना पर चुप्पी साधने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान पर भी निशाना साधा।

Uttarakhand Niwas In Delhi : उत्तराखण्ड निवास में दिखेगी पहाड़ी शैली की झलक

हवाई अड्डों पर सुरक्षा मुहैया कराने वाली सीआईएसएफ ने गुरुवार को चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर हुई इस घटना की कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश दिए हैं, जबकि मोहाली पुलिस ने कुलविंदर कौर के खिलाफ धारा 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाने की सजा) और 341 (गलत तरीके से रोकने की सजा) के तहत मामला दर्ज किया है। दोनों ही जमानती अपराध हैं।

मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए- किरणजीत सिंह

किरणजीत सिंह ने कहा कि थप्पड़ मारने की घटना का कोई सीसीटीवी फुटेज न होने के बावजूद महिला कांस्टेबल के खिलाफ मामला (Kangana Ranaut Slap Case) दर्ज किया गया है। जब थप्पड़ मारने की कोई फुटेज नहीं है तो एफआईआर क्यों दर्ज की गई? मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

सिंह ने इस मुद्दे पर कोई बयान जारी न करने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री की भी आलोचना की। उन्होंने कहा कि पंजाब के सीएम खुद को किसानों का समर्थक कहते हैं, फिर वे चुप क्यों हैं? उन्हें इस मामले पर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए। वहीं पंजाब किसान कांग्रेस प्रमुख ने पंजाब के नवनिर्वाचित सांसदों से भी इस मामले को संसद में उठाने का आग्रह किया।

गुरुवार को चंडीगढ़ हवाई अड्डे पर हुआ रणौत के साथ दुर्व्यवहार

रणौत ने गुरुवार को एक वीडियो संदेश में कहा था कि चंडीगढ़ हवाई अड्डे पर सुरक्षा जांच के दौरान कांस्टेबल ने उनके चेहरे पर मारा और उनके साथ दुर्व्यवहार किया। हिमाचल प्रदेश के मंडी से लोकसभा के लिए चुने जाने के दो दिन बाद यह मामला सामने आया।

संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) और किसान मजदूर मोर्चा पहले ही कांस्टेबल कुलविंदर कौर के समर्थन में आ गए हैं।

किसान मोर्चे के नेता कुलविंदर कौर के पक्ष में आए

कुलविंदर कौर के पक्ष में बरनाला के किसान मोर्चे के नेता आ गए हैं। भारतीय किसान यूनियन डकौंदा के मनजीत सिंह धनेर ने कुलविंदर कौर और उनके परिवार के साथ देने का एलान किया है। उन्होंने कहा कि आज पूरा पंजाब कुलविंदर कौर के साथ है, क्योंकि कुलविंदर ने कंगना रणौत को गलत बोलने का सबक सिखाया है। कंगना ने माताओं के लिए अभद्र शब्द का प्रयोग किया था।

किसान नेता ने कहा कि कंगना रणौत पंजाब पर आतंकवाद व उग्रवाद के आरोप लगा रही हैं। उन्हें सोच समझ कर बोलना चाहिए। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी कि अगर कुलविंदर कौर के खिलाफ कोई कार्रवाई करने की कोशिश की तो किसान यूनियन द्वारा कड़ा विरोध किया जाएगा।

Violence erupted in Manipur : मणिपुर में फिर भड़की हिंसा, उग्रवादियों ने लोगों के घर जलाए

Leave a Reply