Violence erupted in Manipur : मणिपुर में फिर भड़की हिंसा, उग्रवादियों ने लोगों के घर जलाए

14

इंफाल। Violence erupted in Manipur :  मणिपुर में कथित तौर पर उग्रवादियों ने एक व्यक्ति की हत्या कर दी। जिसके कारण वहां भड़की हिंसा के बाद मैतेई समुदाय के 200 से अधिक लोगों को उनके गांवों से निकालकर नए बनाए गए राहत शिविर में पहुंचाया गया है। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

NEET 2024: क्या NEET 2024 में हुई धांधली? जानिए क्या है पूरा मामला

जिरीबाम जिले के बाहरी गांवों लमताई खुनौ, डिबोंग खुनौ, नुनखाल और बेगरा में संदिग्ध उग्रवादियों ने जिरी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में राहत शिविर में रह रहे लोगों के घरों को जला दिया। मणिपुर पुलिस ने इंफाल घाटी में स्थित राज्य पुलिस के कमांडो कर्मियों (Violence erupted in Manipur) को तत्काल प्रभाव से शनिवार को ड्यूटी के लिए जिरीबाम जाने का आदेश दिया है।

उग्रवादियों द्वारा 59 वर्षीय व्यक्ति की हत्या

पुलिस ने बताया कि जातीय संघर्ष से ग्रस्त मणिपुर के जिरीबाम जिले में गुरुवार शाम को तनाव फैल गया, जब एक समुदाय के 59 वर्षीय व्यक्ति की दूसरे समुदाय के उग्रवादियों द्वारा कथित तौर पर हत्या कर दी गई।

हथि‍यार वापसी के लिए प्रदर्शन

स्थानीय लोगों ने जिरीबाम पुलिस थाने के सामने विरोध प्रदर्शन भी किया और मांग की कि चुनाव के मद्देनजर उनसे लिए गए लाइसेंसी हथियार चुनाव समाप्त होने के बाद उन्हें लौटा दिए जाएं।

जिरीबाम, जिसमें मैतेई, मुस्लिम, नागा, कुकी और गैर-मणिपुरी लोगों की एक विविध जातीय संरचना है, पिछले साल मई से मणिपुर में चल रहे जातीय संघर्ष से अब तक अप्रभावित रहा है। इम्फाल घाटी स्थित मैतेई और पहाड़ी क्षेत्र स्थित कुकी लोगों के बीच जातीय संघर्ष के कारण 200 से अधिक लोगों की मौत हो गई है और हजारों लोग बेघर हो गए हैं।

AIIMS Rishikesh : सीएम योगी आदित्यनाथ की मां फिर से एम्स में भर्ती

Leave a Reply