BBC Documentary Row : विवादित डॉक्यूमेंट्री को लेकर पुलिस का एक्शन

7

नई दिल्ली। BBC Documentary Row  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आधारित बीबीसी की विवादित डॉक्यूमेंट्री का विवाद बढ़ता जा रहा है, ‘इंडिया: द मोदी क्वेश्चन’ की स्क्रीनिंग डॉक्यूमेंट्री जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय से शुरू होकर अब दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय पहुंच गया है। जामिया विश्वविद्यालय में बुधवार की शाम 6 बजे कथित तौर पर बीबीसी की विवादित डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग रखी गई थी।

Lucknow Building Collapse : लखनऊ अलाया अपार्टमेंट हादसे में सपा प्रवक्‍ता की मां और पत्‍नी की मौत

4 छात्रों को हंगामा करने के आरोप में लिया हिरासत में

जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के बाहर आज बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर हंगामा करने के आरोप में चार छात्रों को हिरासत में लिया गया है। बता दें कि स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) ने बुधवार को घोषणा की कि वह शाम 6 बजे जामिया विश्वविद्यालय परिसर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बीबीसी के विवादास्पद डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग होगी।

प्रशासन बोला स्क्रीनिंग के लिए नहीं मांगी गई अनुमति

इधर विश्वविद्यालय प्रशासन ने बताया कि डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग (BBC Documentary Row) के लिए कोई अनुमति नहीं मांगी गई है और हम इसकी अनुमति नहीं देंगे। एसएफआई की जामिया इकाई ने एक पोस्टर जारी कर सूचित किया है कि एमसीआरसी लॉन गेट नंबर 8 पर शाम 6 बजे डॉक्यूमेंट्री दिखाई जाएगी। जामिया के एक अधिकारी ने इस मामले लेकर कहा, “उन्होंने स्क्रीनिंग के लिए अनुमति नहीं मांगी और हम स्क्रीनिंग की अनुमति नहीं देंगे। यदि छात्र कुछ करने के लिए बाहर जाते हैं, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।”

स्क्रीनिंग के दौरान हुई पत्थरबाजी (Jamia Millia Islamia University)

बता दें कि इससे पहले जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में मंगलवार को बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग की गई थी। स्क्रीनिंग के दौरान पत्थरबाजी की घटना सामने आई थी। इसके बाद मंगलवार की रात में छात्रों ने वसंत कुंज पुलिस स्टेशन तक पथराव की घटना के विरोध में मार्च निकाला। पुलिस ने मामले की जांच करने का आश्वासन मिलने के बाद छात्रों ने प्रदर्शन खत्म किया।

Pathan Film Row : ‘पठान’ के रिलीज होते ही कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन

Leave a Reply