डीजल और पेट्रोल की कीमतों में जल्दी ही आ सकती है तेजी 

0
125

नई दिल्ली: विमान ईंधन (Jet Fuel) के मूल्य में शनिवार को 6.7 फीसदी की एक बड़ी वृद्धि की गई। वैश्विक बाजार में कच्चे तेल के महंगा होने से जल्द ही डीजल और पेट्रोल के खुदरा भाव (retail price of petrol and diesel) भी बढ़ाए जा सकते हैं। सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने दिल्ली में विमान ईंधन (एटीएफ) का भाव प्रति हजार लीटर 3,885 रुपये यानी 6.7 प्रतिशत बढ़ा कर 61,690.28 रुपये कर दिया। विभिन्न राज्यों पेट्रोलियम पर बिक्री कर की दरों में भिन्नता के कारण वहां एटीएफ के भाव अलग अलग हो सकते हैं।

बत्रा अस्पताल में ऑक्सीजन नहीं मिलने के कारण 8 मरीजों की मौत 

दिल्ली में पेट्रोल 90.40 रुपये और डीजल 80.73 रुपये प्रति लीटर का पड़ रहा है

इससे पहले कंपनियों ने दो बार एटीएफ के भाव घटाए थे। पहली अप्रैल को इसमें तीन प्रतिशत और 19 अप्रैल को एक प्रतिशत की कमी की गयी थी। डीजल एवं पेट्रोल के भाव लगातार 16वें दिन एक ही स्तर पर बने हुए हैं। दिल्ली में पेट्रोल 90.40 रुपये और डीजल 80.73 रुपये प्रति लीटर का पड़ रहा है। अधिकारियों ने संकेत दिया है कि मोटर वाहन ईंधनों के दामों में जल्दी ही संधोशन किया जा सकता है। एक अधिकारी ने कहा कि पिछले चार दिन (27 अप्रैल) से कच्चे तेल के दाम लगातार चढ़ रहे हैं और इस दौरान दुबई में कच्चा तेल 2.91 डालर प्रति बैरल महंगा हो चुका है।

पेट्रोल-डीजल पर कितना लगता है टैक्स

पेट्रोल और डीजल के खुदरा मूल्यों में क्रमश: 60 प्रतिशत और 54 प्रतिशत केंद्रीय व राज्य स्तरीय करों का होता है। भारत में कोविड-19 की नई लहर से पेट्रोलियम की मांग पर असर पड़ने की संभावनाओं के बावजूद अंतराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल चढ़ रहा है। इसके पीछे अमेरिका की मजबूत मांग और डॉलर की कमजोरी बताया जा रहा है। देश में आज कोरोना के रेकॉर्ड 4 लाख से अधिक नए मामले सामने आए।

मतगणना की पूरी तैयारी, 2116 प्रत्याशियों का फैसला होगा कल

LEAVE A REPLY