Sonali Phogat Death: कोर्ट ने दो आरोपियों को 10 दिन की हिरासत में भेजा

406
video

Sonali Phogat Death:  भाजपा नेता सोनाली फोगाट की मौत मामले में गोवा पुलिस ने शनिवार को दो आरोपियों- सुधीर सांगवान और सुखविंदर सिंह को स्थानीय अदालत के सामने पेश किया। यहां दोनों ही आरोपियों को 10 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा गया है। इससे पहले पुलिस ने दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किया। इनमें एक कर्ली क्लब का मालिक और एक ड्रग पेडलर शामिल है। वहीं पुलिस ने क्लब के बाथरूम से ड्रग्स भी बरामद किए हैं। यानी पुलिस अब तक इस मामले में कुल चार लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

Jharkhand Political Crisis: हेमंत सोरेन सभी विधायकों को लेकर छत्तीसगढ़ रवाना

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार को इस मामले में पूछताछ के आधार पर सोनाली के पीए सुधीर सांगवान और सुखविंदर सिंह को गिरफ्तार किया गया था। वहीं दोनो से पूछताछ के बाद पुलिस ने सुखविंदर को ड्रग सप्लाई करने वाले ड्रग पेडलर को शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। सुधीर सांगवान और सुखविंदर 22 अगस्त को सोनाली के साथ गोवा पहुंचे थे।

कांग्रेस नेता ने की सीबीआई जांच की मांग

इस बीच कांग्रेस पार्टी ने पुलिस पर बड़ा आरोप लगाया है। गोवा में विपक्ष के नेता माइकल लोबों ने कहा, पुलिस इस मामले को रफा-दफा करने की कोशिश कर रही है। ऐसे में सोनाली फोगाट की कथित हत्या (Sonali Phogat Death) की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) से कराई जाए।दरअसल, सोनाली फोगाट की मंगलवार को गोवा में रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी।

पहले दिल का दौरा पड़ने की बात आई थी सामने

सोनाली फोगाट की मौत के बाद सामने आया था कि उनकी मृत्यु दिल का दौरा पड़ने से हुई थी, लेकिन बाद में कथित रूप से हत्या की बात सामने आई। कांग्रेस नेता माइकल लोबो ने कहा, इस मामले की हर एंगल से जांच किए जाने की जरूरत है। दरअसल, सोनाली फोगाट की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में शरीर पर कई चोट के निशान मिलने की बात सामने आई थी।

जांच में कर रहे पूरा सहयोग

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सांवत ने कहा, सोनाली फोगाट मामले में पहले दिन से ही हम पूरा सहयोग कर रहे हैं। इस मामले में जो भी दोषी हैं, गोवा पुलिस उन्हें शतप्रतिशत सजा दिलाकर रहेगी। उन्होंने कहा, आरोपी पुलिस हिरासत में हैं। जांच जारी है।

Manish Tewari on Congress: गुलाम नबी आजाद के बाद मनीष तिवारी ने दिखाए तेवर

video

Leave a Reply