Tomato Price : टमाटर की बढ़ती कीमतों के बीच केंद्र ने उठाया बड़ा कदम

216

Tomato Price : केंद्र ने नेफेड, एनसीसीएफ को प्रमुख उपभोक्ता केंद्रों में वितरण के लिए आंध्र, कर्नाटक, महाराष्ट्र से टमाटर खरीदने का निर्देश दिया है। सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में उपभोक्ताओं को शुक्रवार से रियायती कीमतों पर खुदरा दुकानों के माध्यम से टमाटर का वितरण किया जाएगा। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि 14 जुलाई से दिल्ली-एनसीआर के उपभोक्ताओं को कम दरों पर खुदरा दुकानों के जरिए टमाटर बेचे जाएंगे। राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघ (नेफेड) और राष्ट्रीय उपभोक्ता सहकारी संघ (एनसीसीएफ) को टमाटर खरीदने का जिम्मा सौंपा गया है। मंत्रालय के अनुसार पिछले एक महीने में जिन स्थानों पर खुदरा कीमतें राष्ट्रीय औसत से अधिक रही हैं, वहां टमाटर घटी कीमतों पर वितरित किए जाएंगे।

Delhi Flood : दिल्ली में यमुना के जल स्तर ने तोड़ा 45 साल पुराना रिकॉर्ड

टमाटर की कीमत 200 रुपये प्रति किलोग्राम के पार

देश के कई हिस्सों में टमाटर की कीमत 200 रुपये प्रति किलोग्राम के पार हो गई है। यहां तक कि थोक मंडियों में इसके भाव 150 रुपये से 180 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गए हैं। बाजार के जानकारों के अनुसार बीते एक पखवारे दौरान ही बाजार में टमाटर की कीमतें चार गुना और कहीं-कहीं उससे भी ज्यादा हो गईं हैं। गाजियाबाद की थोक सब्जी मंडी से टमाटर खरीद कर खुदरा बाजार में बेचने वाले सचिन बताते हैं कि जून की शुरुआत में जो टमाटर बाजार में अपनी क्वालिटी के हिसाब से 30 से 40 रुपये के भाव पर बिक रहा था उसकी कीमतें अब 100 से 180 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गईं हैं।

टमाटर के अलावे हरी मिर्च व अदरक के भाव भी आसमान पर

टमाटर के के अलावे हरी मिर्च की कीमतें भी आसामान छू रही हैं। हरी मिर्च की कीमत पिछले पखवारे में जहां 50 से 60 रुपये किलो थी, अब 120 रुपये प्रतिकिलो पहुंच गई है। अदरक के भाव भी 300 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गए हैं। सब्जियों के भाव बढ़ने से गृहणियों के रसोई का बजट बिगड़ गया है। टमाटर ने पहले ही किचन से दूरी बना ली थी। अब मिर्च और अदरक के भाव भी उछलने से आम लोग परेशान हैं। उम्मीद है कि टमाटर के मामले में सरकार की ओर से उठाए गए कदम से लोगों को राहत मिलेगी।

हरी सब्जियों की कीमतें बढ़ीं तो क्या बोलीं गृहणियां?

बाजार में सब्जियों की बढ़ती कीमतों (Tomato Price) पर स्थानीय गृहणी संध्या और कविता ने बताया कि टमाटर का इस्तेमाल न होने से लोग परेशान तो हैं ही सब्जियों का स्वाद भी प्रभावित हो रहा है। अब टमाटर के साथ ही हरी मिर्च के दाम भी बढ़ गए हैं। इससे परेशानी और बढ़ गई है। गृहिणी विमला, सरोज, सुनीता कहती हैं कि जिस प्रकार से सब्जियों के दाम बढ़ रहे हैं, उससे लग रहा है कि आने वाले दिनों में हरी सब्जियां रसोई से दूर हो जाएंगी।

Govt Employee : केंद्रीय कर्मियों को सरकारी मकान के लिए जेब करनी होगी ढीली

Leave a Reply