Parliament Monsoon Session : मणिपुर मुद्दे पर दोनों सदनों में मचा हंगामा

205

नई दिल्ली। Parliament Monsoon Session : आज संसद के मानसून सत्र (Parliament Monsoon Session) का पांचवां दिन है। बीते चार दिनों से सदन में मणिपुर मुद्दे पर बहस छिड़ी हुई है। इसी बीच, विपक्षी दलों के द्वारा आज (बुधवार) को लोकसभा में केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव (No Confidence Motion) लाया गया है। लोकसभा स्पीकर ने अविश्वास प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। अविश्वास प्रस्ताव को लेकर कांग्रेस सहित सभी विपक्षी दलों ने सहमति जताई है। इसे लेकर कांग्रेस ने अपने सांसदों को व्हिप भी जारी किया है।बता दें कि विपक्ष की मांग है कि मणिपुर मुद्दें पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी खुद बयान दें, जबकि सरकार का कहना है कि वह मणिपुर पर चर्चा के लिए तैयार है, लेकिन विपक्षी दल एक नियम के तहत चर्चा के लिए दबाव डाल रहे हैं।

CM dhami delhi Visit : मुख्यमंत्री धामी ने केंद्रीय मंत्री गडकरी से की मुलाकात

राज्यसभा की कार्यवाही भी स्थगित

भारी हंगामे के बीच राज्यसभा की कार्यवाही एक बार फिर दोपहर दो बजे तक स्थगित कर दी गई है।

अब खरगे ने अमित शाह को लिखा पत्र

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खरगे ने मणिपुर मुद्दे पर संसद में गतिरोध पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है। पत्र में खरगे ने लिखा है कि एक ही दिन में प्रधानमंत्री देश के विपक्षी दलों को अंग्रेज शासकों और आतंकवादी दल से जोड़ते हैं और उसी दिन गृहमंत्री भावनात्मक पत्र लिखकर विपक्ष से सकारात्मक रवैये की अपेक्षा करते हैं। सत्ता पक्ष और विपक्ष में समन्वय का अभाव वर्षों से दिख रहा था, अब यह खाई सत्तापक्ष के अंदर भी दिखने लगी है। इस पर प्रधान मंत्री द्वारा विपक्षी दलों को दिशाहीन बताना बेतुका ही नहीं बल्कि दुर्भाग्यपूर्ण भी है।

सोनिया गांधी, फारूक समेत कई विपक्षी सांसदों ने किया समर्थन

लोकसभा स्पीकर ने अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार करने का समर्थन कर रहे सांसदों से खड़े होने को कहा। कांग्रेस संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी और नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला सहित विपक्षी गठबंधन इंडिया के सदस्य गिनती के लिए खड़े हुए। इसके बाद ओम बिरला ने प्रस्ताव स्वीकार कर लिया।

लोकसभा की कार्यवाही दो बजे तक स्थगित

भारी हंगामे के बीच लोकसभा की कार्यवाही दोपहर दो बजे तक स्थगित कर दी गई है।

अविश्वास प्रस्ताव लाने को मंजूरी

लोकसभा अध्यक्ष ने अविश्वास प्रस्ताव लाने को मंजूरी दे ही है। स्पीकर ने कहा कि विस्तृत चर्चा के बाद तारीख का एलान करूंगा। हालांकि इसके बाद भी विपक्ष लगातार हंगामा कर रहा है।

माइक बंद कर मेरा अपमान किया गया-खरगे

मणिपुर मु्द्दे पर हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही (Parliament Monsoon Session) दोपहर 12 बजे तक स्थगित कर दी गई। वहीं राज्यसभा मे विपक्ष के नेता और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है। खरगे ने कहा कि सदन में मुझे बोलने नहीं दिया गया और माइक बंद कर मेरा अपमान किया गया।

मणिपुर मुद्दे पर बयान दें पीएम मोदी-नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री को मणिपुर मुद्दे पर बयान देना चाहिए। वे सब दिन गायब रहते हैं। मणिपुर में जो भी घटना हो रही हैं, विपक्ष एकजुट होकर इस मुद्दे को उठा रहा है।

वे विपक्ष में बने रहना चाहते हैंः रवि किशन

विपक्ष द्वारा अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने पर भाजपा सांसद रवि किशन ने कहा कि वे (विपक्ष) जानते हैं कि वे 2024 लोकसभा चुनाव हार रहे हैं। वे विपक्ष में बने रहने का अभ्यास कर रहे हैं।

सांसदों ने कारगिल के योद्धाओं को दी श्रद्धांजलि

राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही शुरू हो गई है। दोनों सदनों के सदस्यों ने कारगिल विजय दिवस के मौके पर 1999 के कारगिल युद्ध में अपने प्राणों की आहुति देने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। बता दें कि आज लोकसभा में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा।

मणिपुर की स्थिति पर चर्चा कराने की मांग

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस देकर मणिपुर की स्थिति पर चर्चा कराने की मांग की है। डीएमके सांसद तिरुचि शिवा, राजद सांसद मनोज कुमार झा, कांग्रेस सांसद राजीव शुक्ला और रंजीत रंजन और आप सांसद राघा चड्ढा ने नियम 267 के तहत राज्यसभा में नोटिस दिया है और मणिपुर की स्थिति पर चर्चा की मांग की है।

Twitter name change : बदल गया Twitter का नाम, अब चिड़िया की जगह दिखेगा X

 

Leave a Reply