Har Ghar Dastak 2.0: टीकाकरण अभियान ‘हर घर दस्तक 2.0’ आज से

271

नई दिल्ली। Har Ghar Dastak 2.0:  देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (यूटी) में टीकाकरण को बढ़ाने और लाभार्थियों के बीच में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से, ‘हर घर दस्तक अभियान 2.0’ नामक एक अभियान चलाया जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने इसकी सूचना दी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को हरी झंडी दिखाकर इस अभियान की शुरुआत की।

Ayodhya Ram Mandir: सीएम योगी ने राम लला के गर्भगृह का किया शिलापूजन

यह अभियान इस साल 31 जुलाई तक चलेगा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, घर-घर जाकर टीकाकरण अभियान के माध्यम से उन सभी लाभार्थियों के टीकाकरण पर जोर दिया जाएगा, जिनकी दूसरी खुराक बची हुई है और जो एहतियाती खुराक के लिए पात्र हैं। 12 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों के टीकाकरण कवरेज को भी स्कूल-आधारित अभियानों के माध्यम से कवर किया जाएगा।

हाल ही में, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 20 मई को एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में कोविड-19 टीकाकरण की धीमी गति के बारे में बताया और सभी पात्र लाभार्थियों को पूर्ण टीकाकरण कवरेज की दिशा में तेजी लाने का आग्रह किया।

वृद्धाश्रमों, स्कूलों / कॉलेजों के लिए अभियान शामिल

एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को दो महीने लंबे ‘हर घर दस्तक’ अभियान 2.0 की योजना बनाने और घर-घर अभियानों पर ध्यान केंद्रित करने की सलाह दी, जिसमें वृद्धाश्रमों, स्कूलों / कॉलेजों के लिए अभियान शामिल हैं।

केंद्र का पहला ‘हर घर दस्तक’ अभियान (Har Ghar Dastak 2.0) 31 दिसंबर तक जारी रहा, जिसमें 100 प्रतिशत पहली खुराक COVID-19 टीकाकरण और दूसरी खुराक टीकाकरण के बैकलॉग को पूरा करने पर ध्यान केंद्रित किया गया था।

COVID-19 टीकाकरण के सार्वभौमिकरण का नया चरण 21 जून, 2021 को शुरू हुआ था

मालूम हो कि राष्ट्रव्यापी COVID-19 टीकाकरण कार्यक्रम 16 जनवरी, 2021 को केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया था और COVID-19 टीकाकरण के सार्वभौमिकरण का नया चरण 21 जून, 2021 को शुरू हुआ था। राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के एक हिस्से के रूप में, भारत सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त में COVID टीके उपलब्ध कराकर उनका समर्थन कर रही है।

Money Laundering Case: में सोनिया और राहुल गांधी को ईडी का नोटिस

Leave a Reply