Election commission : पीएम मोदी के ‘विकसित भारत’ मैसेज पर चुनाव आयोग सख्त

56

नई दिल्ली। Election commission : निर्वाचन आयोग ने गुरुवार को केंद्र सरकार को निर्देश दिया कि वह ‘विकसित भारत संपर्क’ के तहत व्हाट्सएप संदेश भेजना तुरंत बंद करे। चुनाव आयोग (Election commission) ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को इसको लेकर एक नोटिस तक जारी कर दिया है।

Budaun Case : बदायूं कांड का दूसरा आरोपी जावेद बरेली से गिरफ्तार

वॉट्सऐप मैसेज भेजने बंद करने का निर्देश

दरअसल, आयोग ने वॉट्सऐप पर विकसित भारत मैसेज की डिलीवरी तुरंत रोकने का निर्देश दिया है। मामले पर मंत्रालय से अनुपालन रिपोर्ट तत्काल मांगी गई है। आयोग को कई शिकायतें मिली थीं कि आम चुनाव 2024 की घोषणा और आदर्श आचार संहिता लागू होने के बावजूद नागरिकों के फोन पर ऐसे संदेश अभी भी भेजे जा रहे हैं।

आईटी मंत्रालय ने दिया ये जवाब

हालांकि, इसके जवाब में आईटी मंत्रालय ने आयोग को सूचित किया कि यद्यपि पत्र आचार संहिता लागू होने से पहले भेजे गए थे, उनमें से कुछ प्रणालीगत और नेटवर्क सीमाओं के कारण संभवतः देरी से लोगों तक पहुंचे हैं।

क्या है मामला?

बता दें कि आयोग को कई शिकायतें मिली थीं कि आम चुनाव 2024 की घोषणा और आचार संहिता लागू होने के बावजूद सरकार की योजनाओं को बताने वाले संदेश अभी भी आम जनता के फोन पर भेजे जा रहे हैं। कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस ने इस संदेश पर आपत्ति जताई थी। दोनों ने आयोग से कार्रवाई करने की मांग की थी।

Election 2024 : आचार संहिता लागू होने के बाद प्रदेश में 3 हजार लीटर शराब पकड़ी

Leave a Reply