केंद्रीय जांच ब्यूरो ने शारदा घोटाला मामले से जुड़े मुंबई के छह स्थानों पर मारा छापा 

770

नई दिल्ली। केंद्रीय जांच ब्यूरो ने सोमवार को शारदा घोटाला मामले के सिलसिले में मुंबई के छह स्थानों पर छापेमारी की। जिन स्थानों पर छापे मारे गए उनमें भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के तीन अधिकारियों के निवास और कार्यालय परिसर शामिल हैं। बता दें कि सारदा पोंजी घोटाला में तीनों अधिकारियों की भूमिका संदेह के घेरे में है।

विश्व जल दिवस के मौके पर केन-बेतवा लिंक प्रोजेक्ट पर हस्ताक्षर

जिन स्थानों पर छापे मारे गए उनमें भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के तीन अधिकारियों के निवास और कार्यालय परिसर शामिल हैं। केंद्रीय-जांच-ब्यूरो केंद्र द्वारा आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) सहित घोटाले के मामले की एक बहु-एजेंसी जांच कराई जा रही है।

2009 और 2013 के बीच बाजार नियामक के कोलकाता कार्यालय में उनकी पोस्टिंग के दौरान अधिकारियों की भूमिका कथित रूप से संदेह के घेरे में आ गई है। यह मामला एक कथित वित्तीय घोटाले और सारदा समूह द्वारा चलाई गई पोंजी योजना के पतन के कारण हुए राजनीतिक घोटाले से संबंधित है। केंद्र द्वारा आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) सहित घोटाले के मामले की एक बहु-एजेंसी जांच कराई जा रही है।

राजनेताओं, विधान सभा के सदस्यों (विधायकों) और संसद सदस्यों (सांसदों) सहित कई प्रमुख हस्तियों पर घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया गया है। यह छापेमारी ऐसे समय में हुई है जब विधानसभा चुनाव प्रचार पश्चिम बंगाल में तेजी से चल रहा है।

तीरथ सिंह रावत ने गंगा पूजन कर की सर्व कल्याण की कामना की

 

Leave a Reply