भ्रष्टाचारियों पर नकेल कसेगी सरकारः मुख्यमंत्री

0
511

घनसाली में दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना के तहत कृषि ऋण मेले में पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि सरकार ग्रामीण क्षेत्र से पलायन को रोकने तथा किसानों व कास्तकारों के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं संचालित कर रही है, जिसके लिए ग्रामीण विकास पलायन आयोग का गठन किया है जो सरकार को प्रत्येक माह प्रदेश के हर क्षेत्र की रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

सीएम ने कार्यक्रम के दौरान 2632 किसानों को कृषि ऋण के चेक वितरित किए। साथ ही मुख्य बाजार घनसाली मे बस अड्डे का निर्माण, सेमली स्टील गार्डर पुल सहित एक दर्जन के करीब घोषणाएं की है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने घनसाली में आयोजित किसान कल्याण योजना के अवसर पर कहा कि भारत सरकार द्वारा उद्यान विकास के लिए 700 करोड़ रुपये दिए हैं। प्रदेश सरकार प्रत्येक परिवार का स्वास्थ्य बीमा योजना संचालित कर रही है जिसके तहत प्रदेश के 27 लाख परिवारों को स्वास्थ्य बीमा योजना से जोड़ा जायेगा।

सीएम ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र से हो रहे पलायन को रोकने तथा बेरोजगारों को रोजगार से जोड़ने के लिए सरकार ने सहकारिता विभाग के माध्यम से कृषक ऋण योजना पिछले दो माह से प्रारम्भ कर दी है जिसमें अभी तक एक लाख किसानों को इस का फायदा मिल चुका है। उन्होंने कहा कि सरकार के अब तक के कार्यकाल में कोई घोटाला नहीं हुआ।

सरकार ने एनएच-74 घोटाले का पर्दाफाश किया

सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि किसानों की आय बढ़ाने के लिए सहकारिता से लाभ दिया जा रहा है जिसका लाभ ग्रामीण क्षेत्र के हर छोटे-बड़े कास्तकार को उठाना चाहिए। कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि राज्य गठन के बाद से पहाड़ी क्षेत्रों से लगातार पलायन हो रहा है इसको रोकने के लिए प्रदेश सरकार खेती को बढ़ावा देकर कई योजनओं की संचालित कर रही है।

इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक शक्ति लाल शाह ने मुख्यमंत्री से पृथक विकासखंड, घनसाली मे इंजीनियरिंग कॉलेज, कृषि एवं वानिकी विश्वविद्यालय की शाखा, झनेत-अरदिंगी, घुमेटीधर-सेन्दुल के बीच स्टील गार्डर पुलों के निर्माण बाजार मे बस अड्डा निर्माण सहित एक दर्जन क्षेत्र की मांग रखी है। इस मौके पर प्रतापनगर विधायक विजय पंवार, विनोद कंडारी, धन सिंह नेगी, सहकारी बैंक अध्यक्ष रजनी कांत सुरीरा, जिप अध्यक्ष सोना सजवाण, बेबी असवाल, अनुसुया नौटियाल, उमेश चरण गुसाई, अब्बल सिंह विष्ट, राम कुमार कठैत, आनंद सिंह, चन्द्र किशोर मैठाणी, केदार बर्त्वाल, कमलेश्वर कंस्वाल, नत्थी सिंह, बिजेन्द्र गुसाई, प्रमोद, कुशहाल सिंह, मीना नेगी, ममता नौटियाल, सरस्वती मैठाणी, कृष्णा गैरोला, अवतार सिंह चैधरी आदि लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY