KBC शो में हिसार की डॉक्‍टर ने ठेठ हरियाणवी में एंडी कहा तो अमिताभ ने भी दिया ये जवाब

0
34

हांसी, कोई हरियाणा से हो और हरियाणवी न बोले ऐसा शायद ही हो, भले ही कोई शहर में पला बढ़ा हो मगर हरियाणवी बोली से उसका नाता कभी नहीं टूटता। ऐसा ही नजारा रियलटी शो कौन बनेगा करोड़पति में भी देखने को मिला जब हिसार के हांसी शहर की डॉक्टर उर्मिल धतरवाल हॉट सीट पर पहुंची। उन्‍होंने अमिताभ के सामने हॉट सीट पर कई मजाक कर दर्शकों की तालियां जमकर बटोरी। उन्‍होंने ठेठ हरियाणवीं अंदाज में एंडी(बहुत बढि़या) शब्‍द कहा तो अमिताभ ने भी जवाब देते हुए कहा कि उर्मिल जी, आप भी बहुत एंडी हो। इसे सुन दर्शक दिर्घा में बैठे लोग ठहाके मारकर हंसने लगे।

25 लाख रुपये की राशि जीत ली

वहीं इससे पहले फास्टर फिंगर फर्स्‍ट में जीतते ही डा. उर्मिल धत्तरवाल खुशी से झूम उठीं और कई देर तक अपने परिजनों को फ्लाइंग किस कर धतरवाल ने अमिताभ बच्चन को भी चौका दिया। हॉट सीट पर पहुंचने से डा. धत्तरवाल इतनी उत्तेजित हो गईं कि अमिताभ बच्चन द्वारा पहनी हुई पीले रंग की जैकेट का रंग भी नीला बता दिया और कुछ देर बाद शांत होने पर डा. उर्मिल ने अमिताभ बच्चन के प्रश्नों का बेबाकी से जवाब देते हुए 25 लाख रुपये की राशि जीत ली।

डा. धत्तरवाल खुशी से इतनी इतनी उत्तेजित हो गई कि

हॉट सीट पर पहुंचने के बाद डा. धत्तरवाल खुशी से इतनी इतनी उत्तेजित हो गई कि सभी सवालों के जवाब फटाफट देने शुरू कर दिए और कई सवालों के जवाब पर अटकने के बाद उन्होंने लाइफ लाइन का इस्तेमाल किया। उन्होंने अपनी पहली लाइफ लाइन तीसरे प्रश्न में ही इस्तेमाल कर ली और 3 लाख 20 हजार रुपये के दूसरे पड़ाव पर पहुंचते-पहुंचते उनकी तीन लाइफ लाइन खत्म हो चुकी थीं। इसके बाद अमिताभ बच्चन ने उन्हें कम्प्यूटर पर ही ध्यान देने का आग्रह किया। उर्मिल धत्तरवाल ने पहला हृदय प्रत्यारोपण केपटाउन में होने का सही जवाब देकर 12.50 लाख रुपये जीत लिए और इसके बाद आखिरी लाइफ लाइन एक्सपर्ट एडवाइज इस्तेमाल करते हुए 25 लाख रुपये की राशि जीतने में कामयाब हो गई।

आपको बता दें कि हिसार चुंगी के निकट जनाना अस्पताल चलाने वाली प्रख्यात प्रसूति रोग विशेषज्ञ डा. उर्मिल धत्तरवाल वर्ष 2000 से केबीसी में जाने के लिए प्रयासरत थी और अब जाकर उन्हें ये सफलता हासिल हुई थी। इस शो में हिस्सा लेने से पहले उनकी डॉक्यूमेंटरी करने के लिए मुंबई से केबीसी की टीम 9 सितंबर को हांसी पहुंची थीं, जहां उन्होंने उनके घर, पार्क, क्लीनिक में जाकर शूटिंग की तथा परिजनों, स्टॉफ के सदस्यों, पड़ोसियों की भी शूटिंग की गई।

इस शो का हिस्सा बनने वाली वह शहर की पहली महिला प्रतिभागी हैं। 58 वर्षीय डा. उर्मिल धतरवाल के साथ उनके पति रिटायर्ड डिप्टी डेंटल सर्जन डा. जितेंद्र धतरवाल, उनकी बेटी पलक धत्तरवाल, उनकी बहन व भाई भी केबीसी शो में पहुंचे।

बच्चन से पूछने के लिए लिखे थे कई सवाल और कापी घर पर ही भूल गईं डा. उर्मिल

केबीसी के सैट पर पहुंचीं डा. उर्मिल धत्तरवाल ने अमिताभ बच्चन से कहा कि उन्होंने पूछने के लिए कई सवाल तैयार किए थे और कापी पर नोट किए थे लेकिन वो भुलक्कड़ हैं और कापी घर पर ही भूल आई हैं। इस पर कार्यक्रम में मौजूद उनके पति डा. जितेंद्र ने तपाक से कह दिया कि उन्हें भी खतरा है कि कहीं वो उन्हें ही ना भूल जाएं। इस बात ने बच्चन समेत कार्यक्रम में उपस्थित सभी दर्शकों को ठहाके लगाने पर मजबूर कर दिया।

केबीसी में जाकर मेरे जीवन का सपना पूरा हुआ

डा. उर्मिल धतरवाल ने कहा कि शो में जाने के लिए पूरी तरह से हूं एक्साइटिड थी और अमिताभ से खूब सारी बातें करके केबीसी का ये शो मेरे जीवन का यादगार लम्हा बन गया है। केबीसी में पहुंचना नीट के एग्जाम से कम नहीं था और 25 लाख रुपये जीतकर बेहद खुश हूं। पिछले 19 सालों से मैं केबीसी में जाने के लिए प्रयासरत थी और मेरे जीवन का ये सपना पूरा हुआ है।

LEAVE A REPLY