Election Law Bill 2021 : लोकसभा में हुआ पारित

नई दिल्ली। Election Law Bill 2021 : लोकसभा में ‘चुनाव कानून’ (संशोधन) विधेयक 2021 पारित हो गया है। इस विधेयक में आधार को मतदाता सूची से जोड़ने का प्रावधान है। चुनाव कानून (संशोधन) विधेयक 2021 मतदाता सूची डेटा (वोटर कार्ड) को आधार से जोड़ने की अनुमति देता है। इसी के साथ सदन मंगलवार तक के लिए स्थगित हो गया। वहीं, राज्यसभा के 12 सदस्यों के निलंबन के मुद्दे और लखीमपुर खीरी कांड में गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा के इस्तीफे की मांग को लेकर विपक्ष संसद के दोनों सदनों में जोरदार हंगामा किया। संसद की कर्यवाही शुरू होते ही राज्यसभा और फिर लोकसभा की कार्यवाही को कई बार स्थगित करना पड़ा। हंगामे के बीच मोदी सरकार ने लोकसभा में वोटर आइडी को आधार से जोड़ने का विधेयक पेश किया। विपक्ष ने इस बिल को स्टैंडिंग कमेटी के पास भेजने की मांग की है।

Panama paper leak case : ईडी के दफ्तर पहुंचीं ऐश्वर्या राय बच्चन

Parliament winter session 2021 Live Updates:

स्टैंडिंग कमेटी के पास भेजने की मांग

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने चुनाव कानून (संशोधन) विधेयक 2021 बिल (Election Law Bill 2021) को स्टैंडिंग कमेटी के पास भेजने की मांग की है। इसमें बहुत सारी कानूनी कमियां हैं। यह सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ है और जो हमारी निजता का उल्लंघन करता है। इससे लाखों लोगों के चुनावी अधिकार छिन सकते हैं।

अजय मिश्रा टेनी को हटाने की मांग

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि अजय मिश्रा टेनी को फौरन हटाना चाहिए। जनता देख रही है, उन्हें आखिर क्यों नहीं हटा रहे हैं। अजय मिश्रा टेनी में क्या खूबी है? इस अन्याय के खिलाफ हम लड़ रहे हैं।

बैठक में नहीं आना दुर्भाग्यपूर्ण: गोयल

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि बहुत खेद के साथ कहना पड़ रहा है कि केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने सभापति के आदेश और विपक्ष बार-बार कह रहा था इसलिए आज बैठक बुलाई थी। लेकिन दुर्भाग्य की बात है​​ कि वो बैठक तक के लिए नहीं आए। अगर वो अपनी गलती स्वीकारते हैं और माफी मांगते हैं तो मुझे लगता है कि उसमें कोई छोटा नहीं होता। उससे सदन की गरिमा बढ़ेगी।

चुनाव सुधार बिल पर लोकसभा में चर्चा

चुनाव सुधारों की दिशा में बड़ा कदम उठाने की ओर बढ़ रही सरकार ने वोटर लिस्ट को आधार से जोड़ने का विधेयक लोकसभा में पेश किया है। विपक्ष के हंगामें के बीच चुनाव सुधार बिल पर लोकसभा में चर्चा चल रही है। वोटर लिस्ट को आधार से जोड़ने का उद्देश्य किसी व्यक्ति के एक से अधिक जगह पर मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने की खामी पर रोक लगाकर फर्जी मतदान की गुंजाइश खत्म करना है।

आधार को मतदाता सूची से जोड़ने का विरोध

एआइएमआइएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने लोकसभा में ‘चुनाव कानून (संशोधन) विधेयक 2021’ के विरोध में लोकसभा में नोटिस दिया है। ओवैसी ने कहा है कि बिल सदन की विधायी क्षमता से बाहर है क्योंकि यह सुप्रीम कोर्ट द्वारा अपने फैसले में निर्धारित कानून की सीमाओं का उल्लंघन करता है। मतदाता पहचान पत्र और आधार को जोड़ने से कानून का उल्लंघन होता है।

गांधी प्रतिमा से विजय चौक तक मार्च

लखीमपुर खीरी कांड में गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा के इस्तीफे की मांग को लेकर विपक्षी सांसद आज दोपहर 12.30 बजे संसद में गांधी प्रतिमा से विजय चौक तक मार्च निकालेंगे।

राज्यसभा 2 बजे तक स्थगित

संसद की कर्यवाही शुरू होते ही हंगामें के चलते राज्यसभा को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। विपक्ष राज्यसभा के 12 सदस्यों के निलंबन को वापस लेने और गृह राज्य मंत्री अजय कुमार टेनी के तत्काल इस्तीफे की मांग कर रहा है।

नहीं चलने देंगे संसद: संजय राउत

शिवसेना सांसद संजय राउत ने रहा है कि हम सरकार द्वारा बुलाई गई बैठक में शामिल नहीं होंगे। हम राज्यसभा में 12 विपक्षी सांसदों के निलंबन को रद्द करने और गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा के इस्तीफे की मांग करेंगे। हम संसद के दोनों सदनों को चलने नहीं देंगे।

सरकार की रणनीति पर चर्चा

शीतकालीन सत्र के लिए विभिन्न मुद्दों और सरकार की रणनीति पर चर्चा करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी संसद में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी और पीयूष गोयल सहित वरिष्ठ मंत्रियों के साथ बैठक कर रहे हैं। पीएम मोदी की अध्यक्षता में संसद में विभिन्न मुद्दों पर बैठक में केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, अनुराग सिंह ठाकुर, नरेंद्र सिंह तोमर, किरेन रिजिजू और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा शामिल हुए।

जनता भी उनका बहिष्कार कर रही: प्रल्हाद जोशी

केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी ने कहा कि हम उन विपक्षी दलों से बात करना चाहते हैं जिनके राज्यसभा सांसदों को सस्पेंड कर दिया गया है। वे (विपक्ष) बैठक का बहिष्कार कर रहे हैं, उन्होंने संविधान दिवस के कार्यक्रम का भी बहिष्कार किया…उन्हें समझना चाहिए कि जनता भी उनका बहिष्कार कर रही है।

DDMA Meeting on Omicron : दिल्ली सरकार ने भी की बूस्टर डोज लगाने की मांग

 

Leave a Reply