Uttarakhand Weather : उत्तराखंड में बारिश ने बढ़ाई ठंड, बर्फबारी का येलो अलर्ट

337
video

Uttarakhand Weather : शुक्रवार शाम से ही प्रदेश में मौसम का मिजाज बदला हुआ नजर आया। यहां कई जिलों में बारिश के कारण तापमान में गिरावट दर्ज की गई। वहीं, 3500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में ओलावृष्टि भी हुई। रात भर रुक-रुककर हो रही बारिश से मौसम में ठंडक बढ़ गई है। वहीं, हरिद्वार और रुड़की में मूसलाधार बारिश से कई इलाकों में पानी भी भर गया। उधर, कुमाऊं के अच्च हिमालयी क्षेत्र और केदारनाथ में बर्फबारी भी हुई।

Uttarakhand BJP : धामी सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल होने वाला है पूरा

बर्फबारी का येलो अलर्ट

आने वाले चार दिनों में भी मौसम का रुख बदला रहेगा। ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी को लेकर मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि आने वाले चार दिनों में पहाड़ी क्षेत्रों में बारिश के साथ ओलावृष्टि की संभावना है। 20 और 21 मार्च को ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश के साथ हिमपात हो सकता है। जिसका असर ठंड के रूप में मैदानी क्षेत्रों में भी देखने को मिलेगा। उन्होंने बताया कि देहरादून, उत्तरकाशी, टिहरी, पौड़ी और कुमाऊं मंडल के पर्वतीय जनपदों में गरज के साथ बिजली चमकेगी।

बदरी- केदारनाथ धाम सहित ऊंची चोटियों पर बर्फबारी (Uttarakhand Weather)

शनिवार तड़के से ही देहरादून सहित राज्‍य के अधिकतर इलाकों में बारिश जारी रही।
केदारनाथ, बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब सहित ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई। जिससे ज्यादातर क्षेत्रों में तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है।
विकासनगर में भी लगातार बारिश जारी रही। बारिश के चलते मौसम ठंडा होने पर फिर से गर्म कपड़े निकल गए। बारिश होने से किसान और बागवानों के चेहरे खिले नजर आए।
मसूरी में देर रात ढाई बजे बारिश शुरू हुई।
रुड़की में भी शुक्रवार रात से बारिश जारी रही।
पौड़ी, कोटद्वार व आसपास के क्षेत्रों में हल्की बारिश हुई। बारिश के कारण तापमान गिरा है। वहीं बारिश से आम और लीची की फसल को नुकसान पहुंचा है।
रुद्रप्रयाग जिले में घने बादल छाए हुए हैं। यहां भी बारिश की संभावना बन रही है।
शुक्रवार के बाद आज शनिवार को भी नैनीताल में बारिश व ओलावृष्टि हुई। यहां तापमान के खासी गिरावट दर्ज की जा रही है।

Global Millets Conference : का पीएम मोदी ने किया उद्घाटन

video

Leave a Reply