Earthquake in Indonesia: इंडोनेशिया में भूकंप से 20 लोगों की मौत; 700 घायल

जकार्ताEarthquake in Indonesia:  इंडोनेशिया के पश्चिमी जावा प्रांत में सोमवार को आए 5.6 तीव्रता के भूकंप में 46 लोगों की मौत हो गई, जबकि 700 से ज्यादा लोग घायल हो गए। एक स्थानीय अधिकारी ने यह जानकारी दी। यूएस जियोलाजिकल सर्वे ने कहा कि 5.6 तीव्रता का भूकंप पश्चिम जावा प्रांत के सियानजुर क्षेत्र में 10 किलोमीटर (6.2 मील) की गहराई पर केंद्रित था।

Gujarat Election: गुजरात में पीएम मोदी का कांग्रेस पर निशाना

भूकंप से कई इमारतें क्षतिग्रस्त

पश्चिम जावा के शहर सियानजुर के एक सरकारी अधिकारी हरमन सुहरमन, जहां भूकंप का केंद्र था, ने समाचार चैनल मेट्रोटीवी को बताया कि क्षेत्र के एक अस्पताल में 44 लोगों की मौत हो गई है और 300 से ज्यादा लोग घायल हो गए। भूकंप से कई इमारतें क्षतिग्रस्त हो गई हैं। लोगों को सुरक्षा के लिए सड़कों पर चले जाने को कहा गया है।

अंतिम आंकड़ा आना अभी बाकी

राष्ट्रीय आपदा न्यूनीकरण एजेंसी ने कहा कि एक इस्लामिक बोर्डिंग स्कूल, एक अस्पताल और अन्य सार्वजनिक सुविधाओं सहित दर्जनों इमारतें क्षतिग्रस्त हो गईं। एक बयान में कहा गया है कि हताहतों की संख्या और क्षति के बारे में अभी भी जानकारी एकत्र की जा रही है।

ग्रेटर जकार्ता इलाके में महसूस किए भूकंप के झटके

भूकंप के झटके ग्रेटर जकार्ता इलाके में महसूस किए गए। राजधानी में ऊंचे ऊंचे स्थान बह गए और कुछ को खाली करा लिया गया। दक्षिण जकार्ता में एक कर्मचारी विदी प्राइमाधानिया ने कहा, ‘भूकंप इतना तेज महसूस हुआ। मेरे सहयोगियों और मैंने आपातकालीन सीढ़ियों का उपयोग करके नौवीं मंजिल पर अपने कार्यालय से बाहर निकलने का फैसला किया।’

जकार्ता में भूकंप का आना असामान्य

इंडोनेशिया (Earthquake in Indonesia) में अक्सर भूकंप आते रहते हैं, लेकिन जकार्ता में उन्हें महसूस किया जाना असामान्य है। 270 मिलियन से अधिक लोगों का देश अक्सर भूकंप, ज्वालामुखी विस्फोट और सूनामी से प्रभावित होता है। फरवरी में, पश्चिम सुमात्रा प्रांत में 6.2 तीव्रता के भूकंप में कम से कम 25 लोग मारे गए और 460 से अधिक घायल हो गए।

जनवरी 2021 में 100 से अधिक लोगों की गई जान

जनवरी 2021 में, पश्चिम सुलावेसी प्रांत में 6.2 तीव्रता के भूकंप ने 100 से अधिक लोगों की जान ले ली और लगभग 6,500 घायल हो गए। 2004 में एक शक्तिशाली हिंद महासागर भूकंप और सुनामी ने एक दर्जन देशों में लगभग 230,000 लोगों की जान ले ली, जिनमें से अधिकांश इंडोनेशिया में थे।

Cabinet meeting today : अनुपूरक बजट पर हो सकती है चर्चा

Leave a Reply