मां-बेटे ने पिता की हत्याकर शव घर में दफनाया

0
566

हल्द्वानी में रामपुर रोड के जीतपुर नेगी गांव में एक इलेक्ट्रीशियन ने अपने वृद्ध पिता की हत्या कर शव घर के भीतर ही दफना दिया। हत्या को अंजाम देने में वृद्ध की पत्नी ने भी साथ दिया। छोटे भाई के शक जताने पर पुलिस ने आरोपी मां-बेटे को गिरफ्तार कर घर में दबाया शव बरामद कर लिया है।

रामपुर जिले के ग्राम जसमोली, थाना शहजादनगर निवासी बाबूराम ने कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि उनका बड़ा भाई प्यारे लाल छह साल पहले से जीतपुर नेगी, हल्द्वानी में अपना घर बनाकर रह रहा था। प्यारे लाल के साथ उसकी पत्नी रानी देवी, लड़का मुन्ना लाल और बहू भी रहती थी।

तीन जनवरी को फुफेरी बहन ओमवती बड़े भाई प्यारे लाल से मिलने हल्द्वानी आई थी। इस दौरान उन्होंने ओमवती से कहा था कि पत्नी और बेटा आए दिन उसके साथ मारपीट करते हैं। साथ ही सिर में लगी चोटों के निशान भी दिखाए।

 लंबे समय से बीमार चल रहा था  प्यारे लाल

रविवार को जीतपुर नेगी में रह रहे छोटे भाई घासीराम के बेटे ओमप्रकाश ने फोन कर बाबूराम को जानकारी दी कि प्यारे लाल तीन-चार दिन से दिखाई नहीं दे रहे हैं। इस पर वह भाई लीलाधर के साथ हल्द्वानी आ गया। इस दौरान प्यारे लाल की पत्नी और बेटे से भाई के बारे में पूछा, तो वह टालमटोल करने लगे। आसपास पता करने पर जानकारी मिली कि प्यारे लाल लंबे समय से बीमार चल रहा था और वह चल फिर भी नहीं सकता था। इससे परिवार उनका शक और गहरा गया और बाबूराम ने प्यारे लाल की पत्नी और बेटे पर हत्या करने का शक जताया। जिसके बाद पुलिस जांच में जुट गई।

मामले का खुलासा करते हुए कोतवाल खुशी राम पांडे ने बताया कि देर रात मुन्ना लाल और रानी देवी को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। पुलिस के सख्ती दिखाते ही मुन्ना ने सच उगल दिया और पिता प्यारे लाल की हत्या कर शव जमीन में दफनाने की जानकारी दी।

LEAVE A REPLY