आखिर पकड़ लिया दहशत फैलाने वाले गुलदार को

0
492

देहरादून के सहस्रधारा रोड क्षेत्र में दहशत फैलाने वाले गुलदार को आखिर पकड़ लिया गया है। गुलदार ने पिछले एक महीने से इस इलाके में खौफ फैला रखा था। सहस्रधारा रोड स्थित केवल विहार कॉलोनी में 20 दिसंबर को गुलदार घर में घुस गया था। इसके बाद से यहां दहशत का माहौल था। गुलदार कुछ दिन के अंतराल में दिखता रहता था।

बुधवार सुबह गुलदार अधोइवाला बैंक कॉलोनी में दिखाई दिया। यहां बाथरूम गए एक युवक को गुलदार ने पंजा मारकर घायल कर दिया। गुलदार बाथरूम में छिपा बैठा था। युवक का दून अस्पताल में उपचार कराया गया। घायल युवक सुमित आईटी पार्क में काम करता है। युवक जैसे-तैसे कर अपनी जान बचाई।

इससे स्थानीय लोगों में दहशत फैल गई। वन विभाग की टीम गुलदार को दबोचने में असफल साबित हो रही थी। इसके बाद गुलदार बैंक कॉलोनी से निकल कर डील की तरफ को जाते देखा गया। गुलदार सुबह 7 बजे करीब डील के पास मित्तल वेडिंग पॉइंट की सीलिंग तोड़ कर हॉल में घुस गया।

वेडिंग पलिंट की सीसीटीवी फुटेज में ये सब रिकॉर्ड हो गया। वन विभाग की टीम वेडिंग पॉइंट में निगरानी पर बैठी रही। दोपहर बाद वन विभाग ने ट्रेंकुला गन की मदद से गुलदार को बेहोश किया गया। गुलदार को जाल में पकड़कर जंगल में छोड़ा जा रहा है। गुलदार के पकड़े जाने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है।

जसपुर में ठंड से नर गुलदार की मौत

रायपुर गांव में इंटर कॉलेज के पीछे नाले में एक नर गुलदार का शव बरामद हुआ। इससे मौके पर ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी। सूचना पर पहुंचे वनकर्मियों ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए रामनगर भिजवा दिया। वन रेंजर ने प्रथम दृष्ट्या ठंड के चलते गुलदार की मौत होने की आशंका जताई है।

मंगलवार को काशीपुर क्षेत्र अर्न्तगत ग्राम रायपुर स्थित इंटर कॉलेज के पीछे बने नाला खलिया के पास ग्रामीणों को एक नर गुलदार का शव पड़ा दिखा। ग्रामीणों ने इसकी सूचना नादेही पुलिस को दी। चैकी इंचार्ज सुधाकर जोशी ने कोतवाल अबुल कलाम एवं वन क्षेत्राधिकारी कुंदन सिंह खाती को मामले से अवगत कराया।

वन क्षेत्राधिकारी ने टीम के साथ शव का परीक्षण किया। गुलदार के मुंह से खून बह रहा था। उन्होंने प्रथम दृष्ट्या ठंड से मौत की आशंका जताई। उन्होंने ग्रामीणों की मदद से गुलदार के शव को रामनगर भिजवाया है। इस दौरान गुलदार के शव को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई।

LEAVE A REPLY