फसलों, साग-सब्जी की सुरक्षा करो सरकार

0
327

कनालीछीना (पिथौरागढ)-देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) उर्बादत्त भट्ट आजकल कुमाउं के दौरे पर हैं। भट्ट ने सीमांत जनपद पिथौरागढ के जिला मुख्यालय और कनालीछीना तहसील में भाजपा कार्यालयों में जनता दरबार लगाकर लोगों की समस्याएं सुनीं। लोगों ने बंदरों, सुअरों के द्वारा फसलों और साग-सब्जी को नुकसान पहुंचाने का मामला प्रमुखता से उठाया। ओएसडी ने जिले में 268 समस्याएं सुनी और स्थानीय स्तर की समस्याओं के निस्तारण के लिए अफसरों को निर्देशित किया।
दूरस्थ ग्रामीण इलाकों से पहुंचे ग्रामीणों ने सीएम के ओएसडी को बताया कि उनके खेतों मेें बंदर और सुअर फसलों और साग-सब्जी को बर्बाद कर रहे हैं। उन्होंने सरकार से इस संबंध में तत्काल प्रभावी कदम उठाने और जंगली जानवरों से उनकी फसलों और साग-सब्जी की सुरक्षा की गुहार लगाई। राज्य आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाने वालों का चिन्हीकरण नहीं होने की पीडा लोगों ने बताई। लोगों ने संपर्क मार्गों के निर्माण, विधवा और वृद्धावस्था पेंशन के मामले भी उठाए। बुजुर्गों की ओर से आधार लिंक कराने के बावजूद पेंशन नहीं मिलने की समस्या गिनाई।
कनालीछीना में लोगों ने पेयजल समस्या का समाधान किए जाने, पॉलीटेक्निक कॉलेज में फीडर ट्रेड को मंजूरी देने, देवलथल आईटीआई और कनालीछीना डिग्री कालेज की कक्षाओं का संचालन करने की मांग उठाई। बताया गया कि कनालीछीना डिग्री कालेज का भवन बने चार साल हो गए हैं लेकिन कक्षाओं का संचालन अब नहीं हुआ है। इलाके के विद्यार्थी उच्च शिक्षा के लिए 30 किलोमीटर का सफर तय करके जिला मुख्यालय या फिर डीडीहाट जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY