ओह! मानसून आते ही ये क्या किया … उत्तराखंड के मुनस्यारी में बादल फटा, डैम टूटा, गाडि़यां बही

0
1227

रिपोर्ट … page3news.co.in
हल्द्वानी। गर्मी से बेहाल लोग कई दिन से जिस मानसून के आने की इंतजारी में बैठे थे उसने आते ही उत्तराखंड के शांत इलाके मुनस्यारी को अशांत कर दिया। ओह! मानसून इतना न बरसो की हमारी बरसों की मेहनत बर्बाद हो जाए। उत्तराखंड में मानसूनी बारिश ने आते ही अपना कहर दिखाना शुरू कर दिया है। रविवार देर रात मुनस्यारी के बलाती गांव में बादल फटने की घटना सामने आई है। बादल फटने से पूरे इलाके में बाढ़ के हालात बन गए हैं। वहीं सेराघाट हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट भी टूट गया। पानी के तेज बहाव में कई गाडि़यां बह गई हैं।

आवासीय भवनों में घुसा बरसात का पानी

रविवार रात करीब 12 बजे बलाती गांव में बादल फटने से पूरे इलाके में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। मुनस्यारी और मदकोट के बाजार में पानी के साथ भारी मात्रा में मलबा आ गया। दुकानों में रखा लाखों रुपये का सामान पानी में बह गया है। इलाके में कई जगहों पर रास्ते बंद होने की सूचना भी है। घटना के बाद पूरे इलाके में दहशत बनी हुई है। स्थानीय लोगों ने पूरी रात घरों से बाहर ऊंची जगह पर बिताई। बारिश के पानी ने कई घरों को भी नुकसान पहुंचाया है।
हाइड्रो पॉवर प्रोजेक्ट को पहुंचा नुकसान बीती रात से हो रही तेज बारिश में नदियों के जलस्तर भी लगातार बढ़ रहा हैं। वहीं सेराघाट में बनी हाइड्रो पॉवर प्रोजेक्ट को बारिश से काफी नुकसान पहुंचा है। भारी बारिश के चलते हाईड्रो प्रोजेक्ट का डैम टूट गया है। जिसमे वहां खड़े तीन वाहन पानी के तेज बहाव में बह गए। साथ ही सड़क का काफी हिस्सा भी पानी में टूट गया। धारचूला और मुनस्यारी तहसील में भारी बारिश को देखते हुए जिलाधिकारी ने आज अभी स्कूल बंद रखने के आदेश दिए है।