उत्तराखंड बोर्ड की मेरिट में आए 106 छात्र-छात्राएं सम्मानित

0
527

देहरादून। विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान उत्तराखंड की ओर से संचालित विद्यालयों के उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा 2017 में प्रदेश की वरीयता सूची में स्थान प्राप्त मेधावियों को भारतीय शिक्षा समिति (माध्यमिक अनुभाग) सम्मानित किया गया। राजधानी के धर्मपुर स्थित श्री गोवर्धन सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज में आयोजित समारोह का मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया। उत्तराखंड बोर्ड की मेरिट में स्थान प्राप्त हाईस्कूल-इंटरमीडिएट के 106 छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया।
सीएम ने कहा कि विद्या भारती द्वारा संचालित विद्यालय के विद्यार्थियों को संस्कारयुक्त एवं मूल्यपरक शिक्षा देनेे के साथ ही शिक्षा क्षेत्र में टॉपर की एक श्रंखला तैयार कर रहा है। विद्या भारती उत्तराखंड के प्रांत संगठन मंत्री भुवन चंद्र ने कहा कि उत्तराखंड में विद्या भारती का कार्य समाज में स्वीकार्य हो रहा है। उन्होंने कहा कि विद्या भारती की ओर से संचालित विद्यालयों के विद्यार्थी शिक्षा के क्षेत्र में ही नहीं खेलों में भी आगे बढ रहे हैं। विद्या भारती द्वारा संचालित विद्यालयों के छात्र-छात्राओं में सर्वांगीण विकास को आधार बनाकर कार्य कर रहा है।
कार्यक्रम के अध्यक्ष विधायक उमेश शर्मा काऊ ने कहा कि विद्या भारती द्वारा चलाए जा रहे विद्यालयों के अध्यापकों के कठोर परीक्षण के फलस्वरूप ही आज राज्यों की मेरिट सूची में अधिकतम स्थान इन स्कूलों के विद्यार्थी ही बनाते हैं। कार्यक्रम में प्रदेश निरीक्षक भारतीय शिक्षा समिति उत्तराखंड डा विजयपाल सिंह, प्रदेश निरीक्षक शिशु शिक्षा समिति उत्तराखंड सत्यप्रकाश बंगवाल, नत्थीराम बंगवाल, जगदीश पांडेय, अरूण गोयल, विनोद उनियाल, हेमराज थपलियाल, आनंद शर्मा, नीरज अग्रवाल, राजशेखर जोशी, चंद्रसिंह भंडारी, सत्यपाल सिंह नेगी, नत्थीलाल बंगवाल, ज्ञान सिंह नेगी, नीलम सहगल, सुनील उनियाल गामा, जेसी खुल्बे आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY