अभिमन्यु क्रिकेट ऐकेडमी के घर में लाखों रुपये की लूट

0
133

देहरादून: क्रिकेटर अभिमन्यु ईश्वरन के पिता व अभिमन्यु क्रिकेट ऐकेडमी के संचालक आरपी ईश्वरन को पत्नी व घर में मौजूद दो नौकरों समेत बंधक बनाकर हथियारबंद बदमाशों ने रविवार रात लाखों रुपये की लूट की वारदात को अंजाम दिया। लूट के बाद बदमाश बंगले में लगे सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर भी उखाड़ ले गए, जिससे पुलिस को फिलहाल बदमाशों का कोई सुराग नहीं मिल सका है। एसएसपी अरुण मोहन जोशी व एसपी सिटी श्वेता चौबे पर मौके पर पहुंचकर ईश्वरन दंपती और घर में मौजूद नौकरों से पूछताछ की। साथ भोर तक शहर के प्रवेश मार्गों पर पुलिस चेकिंग जारी रही।

Deepika Padukone की ड्रेस से ज्यादा कैप्शन की हो रही चर्चा, जानें- इस कोरियाई शख्स से क्या है कनेक्शन?

आरपी ईश्वरन का मसूरी रोड पर मैक्स अस्पताल के पास आलीशान बंगला है। रविवार रात सवा आठ बजे चार बदमाश मेन गेट से बंगले में दाखिल हुए और दरवाजे की डोर बेल बजाई। नौकर भुवन ने जैसे ही दरवाजा खोला एक बदमाश ने उसके गले पर चाकू रख दिया और पूछा कि उनके मालिक कहां है। दहशत में भुवन उन्हें लेकर पहली मंजिल पर आरपी ईश्वरन के कमरे की ओर चल दिया। वहां आरपी ईश्वरन और उनकी पत्नी के कमरे से बाहर आते ही दोनों को गन प्वाइंट पर लेते हुए नकदी और अन्य कीमती सामान के बारे में पूछने लगे। ईश्वरन बताने में थोड़ा हिचके तो बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया। उन्हें कई घूंसे जड़े और जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद बदमाशों ने पति-पत्नी को साथ लेकर पूरे घर को छान मारा।

बाप-बेटे की सुपारी मिली है, फिर भी जान बख्श रहे हैं

हाई प्रोफाइल लूट को अंजाम देकर बदमाशों ने देहरादून पुलिस को खुली चुनौती दी है। बदमाशों के दुस्साहस का अंदाजा सिर्फ इसी से लगाया जा सकता है कि चारों ने अपने चेहरे खोल रखे थे और पूरी तरह बेखौफ होकर रविवार की रात सवा आठ बजे से पौने दस बजे तक लूटपाट करते रहे। बदमाशों में कोई हड़बड़ाहट नहीं थी, जैसे उन्हें पता हो कि वह यहां कुछ भी कर दें, कोई आने वाला नहीं है। वारदात के बाद बदमाशों ने ईश्वरन दंपती को धमकी भी दी, कहा कि बाप-बेटे की सुपारी मिली है, लेकिन वह दोनों की जान बख्श रहे हैं। ईश्वरन दंपती को एसएसपी ने ढांढस बंधाया कि वह निश्चिंत रहें, बदमाशों को जल्द पकड़ा जाएगा और जिसके भी इशारे पर बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया है, वह जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे।

सुराग तलाशने में जुटी पुलिस

वारदात की सूचना पर फील्ड यूनिट की टीम भी मौके पर पहुंच गई। यूनिट ने बदमाशों ने जिस-जिस सामानों को छुआ था, उससे फिंगर प्रिंट उठाए। इसके साथ ही नौकरों से भी अलग-अलग पूछताछ की।

नहीं पता चला कैसे आए थे बदमाश

सीसीटीवी फुटेज न होने के चलते यह पता नहीं चल सका है कि बदमाश कार से आए थे या बाइक से। इसके लिए पुलिस मसूरी रोड पर लगे कैमरों की फुटेज से सवा आठ से पहले आने वाली और पौने दस बजे के दौरान गुजरी हर कार और बाइक के बारे में जानकारी जुटा रही है।

डेटा डंप की भी हो रही कोशिश

पुलिस बदमाशों का सुराग लगाने के लिए डेटा डंप कर यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि वारदात के समय इलाके में कितने मोबाइल सक्रिय थे। फिलहाल बदमाशों ने जिस शातिराना तरीके से वारदात को अंजाम दिया है, उसे बदमाशों तक पहुंचना नामुमकिन भले न हो मुश्किल जरूर है।

पुलिस ने जारी किया स्केच

ईश्वरन दंपती और नौकरों से पूछताछ के बाद पुलिस ने एक बदमाश का स्केच भी जारी किया है। खबर लिखे जाने तक अन्य बदमाशों के भी स्कैच तैयार किए जा रहे थे। इसे शहर में नाकेबंदी कर चेकिंग कर रही पुलिस को देने के साथ आसपास के जिलों और राज्यों की पुलिस से भी साझा किया गया है।

गार्ड को भी बना लिया था बंधक

बंगले में लूटपाट के दौरान रात में ड्यूटी पर पहुंचे गार्ड को भी बदमाशों ने बंधक बना लिया था। पुलिस उससे भी पूछताछ कर बदमाशों को लेकर जानकारी जुटा रही है। एसएसपी अरुण मोहन जोशी का कहना है कि घटना के दौरान मौजूद हर शख्श से अलग-अलग पूछताछ की जा रही है। जल्द ही बदमाशों को पकड़ लिया जाएगा। शहर से बाहर को जाने वाले सभी रास्तों पर नाकेबंदी भी कर दी गई है। क्षेत्र में आने-जाने वाले सभी रास्तों के सीसीटीवी फुटेज भी चेक कराए जा रहे हैं। बदमाशों के बारे में कुछ सुराग हाथ लगे हैं। जल्द सभी कड़ि‍यों को जोड़कर तफ्तीश आगे बढ़ाई जाएगी।

चीन की चुनौतियों से निपटने की तैयारी, आर्मी ने लदाख में किया युद्धाभ्यास, वायुसेना ने अरुणाचल में खोला लैंडिंग ग्राउंड

 

LEAVE A REPLY