Uttarakhand Election 2022 : गृहमंत्री अमित शाह 30 अक्टूबर जनसभा को करेंगे संबोधित

0
90

देहरादून। Uttarakhand Election 2022 केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 30 अक्टूबर को देहरादून में एक सरकारी कार्यक्रम में भाग लेने के साथ ही जनसभा को भी संबोधित करेंगे। केंद्रीय गृह मंत्री शाह दो दिवसीय दौरे पर 29 अक्टूबर को उत्तराखंड आ रहे हैं। पहले दिन वह हरिद्वार अथवा ऋषिकेश में निजी दौरे पर रहेंगे।

Chhath festival update : दिल्ली में लोग सार्वजनिक रूप से मना सकेंगे छठ, 1 नवंबर से खुलेंगे स्कूल

अगले दिन 30 अक्टूबर को वह देहरादून में पहले सरकारी और पार्टी के कार्यक्रम में भाग लेंगे। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना की लांचिंग कर सकते हैं। यह सरकारी कार्यक्रम होगा। इसके बाद वह जनसभा को भी संबोधित करेंगे। सभा स्थल कहां होगा, बुधवार तक इसे फाइनल कर दिया जाएगा।

Uttarakhand Election 2022 दिन में किया शामिल, शाम को लगाई रोक

भारतीय जनता पार्टी में दिन में शामिल किए गए चंपावत के नेता गोविंद सिंह सामंत पर देर शाम अग्रिम आदेशों तक रोक लगा दी गई। पार्टी में वापसी पर रोक के पीछे तकनीकी कारण बताया गया है। मंगलवार दोपहर को भाजपा मुख्यालय में पार्टी से निष्कासित पूर्व पदाधिकारियों को फिर से पार्टी में शामिल करने का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें चंपावत के नेता गोविंद सिंह सामंत के नेतृत्व में बड़ी संख्या में लोग भाजपा में शामिल हुए। इस दौरान आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राकेश काला ने भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

दोपहर में हुए इस कार्यक्रम में निष्कासितों को पार्टी में शामिल करने के लिए बनाई गई स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन एवं राज्य सभा सांसद नरेश बंसल और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने सभी का पार्टी में स्वागत किया। देर शाम अचानक पार्टी ने गोविंद सिंह सामंत को पार्टी में शामिल करने पर रोक लगा दी। भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष के निर्देशों पर तकनीकी कारणों से गोविंद सिंह सामंत को पार्टी में शामिल करने पर अग्रिम आदेशों तक रोक लगाई गई है।

प्रधानमंत्री को निशंक ने भेंट की पुस्तक

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री व सांसद डा रमेश पोखरियाल निशंक ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री को स्वरचित पुस्तक धरती का स्वर्ग भेंट की। मंगलवार को नई दिल्ली में हुई मुलाकात के दौरान डा निशंक ने नई शिक्षा नीति और अन्य विषयों पर भी प्रधानमंत्री से चर्चा की। उन्होंने एम्स में भर्ती रहने के दौरान प्रधानमंत्री द्वारा लगातार उनके स्वास्थ्य की चिंता करने और हौसला बढ़ाने के लिए भी आभार प्रकट किया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने उनकी कुशल क्षेम भी पूछी।

Delhi Cabinet Meeting : दिल्ली के बुजुर्ग मुफ्त में करेंगे अयोध्या में राम लला के दर्शन

Leave a Reply