Shaheed Samman Yatra: के प्रचार रथ को किया गया रवाना

0
113

देहरादून। Shaheed Samman Yatra: भव्य सैन्यधाम निर्माण के लिए राज्य के शहीदों के घर के आंगन से पवित्र मिट्टी एकत्र करने को ‘शहीद सम्मान यात्रा’ निकाली जा रही है। मंगलवार को इस यात्रा के दो प्रचार रथों को अशोक चक्र विजेता शहीद गजेंद्र सिंह बिष्ट की पत्नी विनीता बिष्ट व शहीद बहादुर सिंह बोहरा की पत्नी शांति बोहरा ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 21 अक्टूबर को चमोली के सवाड़ में मुख्यमंत्री शहीद सम्मान यात्रा का उद्घाटन करेंगे। वहीं, 24 अक्टूबर को पिथौरागढ़ के मूनाकोट में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस यात्रा का उद्घाटन करने आ रहे हैं।

Shopian Encounter : सुरक्षाबलों ने मार गिराया श्रमिक साकिर का हत्यारा आदिल

सैनिक कल्याण मंत्री गणोश जोशी के कैंट रोड स्थित कैंप कार्यालय से शहीद सम्मान यात्रा (Shaheed Samman Yatra) के प्रचार रथों को रवाना किया गया। इस मौके पर काबीना मंत्री जोशी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा था कि वीरों की भूमि उत्तराखंड में चार धामों के अलावा पांचवां धाम सैन्यधाम होना चाहिए। इसी क्रम में सैन्यधाम निर्माण के लिए शहीदों के घरों से पवित्र माटी लाने की मुहिम चलाई जा रही है। इस मौके पर वरिष्ठ भाजपा नेता ज्योति गैरोला, पूनम नौटियाल, सैनिक कल्याण विभाग के निदेशक एवं अपर सचिव मेजर योगेंद्र यादव मौजूद रहे।

ईद-मिलादुन्नबी पर जुलूस निकाल दिया अमन का संदेश

ईद-मिलादुन्नबी पर शहर में जुलूस-ए-मोहम्मदी निकालकर मुस्लिम समुदाय ने अमन का पैगाम दिया। जुलूस में ‘हिंदुस्‍तान जिंदाबाद, इस्लाम आतंकवाद के खिलाफ है’, ‘सारे जहां से अच्छा हिंदुस्‍तान हमारा’ के नारे लगाए और हजरत मोहम्मद के बताए रास्ते पर चलने का संकल्प लिया।

राजधानी दून में सुन्नी हनफी बरेलवी मुस्लिमों ने शहर में जुलूस निकाला

मंगलवार को पैगंबर-ए इस्लाम हजरत मोहम्मद साहब की यौम-ए-पैदाइश को लेकर मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में खासा उत्साह दिखा। राजधानी दून में सुन्नी हनफी बरेलवी मुस्लिमों ने शहर में जुलूस निकाला। इसमें एकता की मिसाल पेश करते हुए सामाजिक सद्भावना के नारे भी लगाए गए। ईद-मिलादुन्नबी कमेटी ने गांधीग्राम स्थित गौसिया जामा मस्जिद से पटेलनगर, प्रिंस चौक, पुराना बस स्टैंड, दून अस्पताल चौक, बुद्धा चौक होते हुए रेंजर्स कालेज स्थित सैयद जमाल शाह रहमतुल्लाह अलैह की मजार तक जुलूस निकाला गया।

जुलूस ईद मिलादुन्नबी के संस्थापक व नायब सुन्नी शहर काजी सैयद अशरफ हुसैन कादरी ने कहा कि ईद मिलादुन्नबी हमें नबी से अटूट मोहब्बत करने का संदेश देती है। इस्लाम मजहब आतंकवाद और आतंकियों के खिलाफ है। हम सभी कश्मीर पर आम लोग पर किए जा रहे हमले की निंदा करते हैं और सरकार से आम जन की सुरक्षा के लिए कठोर कदम उठाने की मांग करते हैं। इस मौके पर कमेटी के अध्यक्ष इम्तियाज अहमद, विनोद कुमार, गौसिया मस्जिद के अध्यक्ष राशिद खान, मौलाना इंतजार, मौलाना फिरोज रिजवी, मौलाना असलम कादरी आदि मौजूद रहे।

PM Modi Kushinagar Visit : कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा देश को करेंगे अर्पित

Leave a Reply