Industrial organizations : के प्रतिनिधियों ने धामी से की मुलाकात

0
59

देहरादून: Industrial organizations: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से निजी आवास में औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्यमियों की समस्याओं का त्वरित निदान हो, इसके लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। बुधवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास में औद्योगिक संगठन से मुलाकात के दौरान कहा कि उद्योगों की बेहतरी के लिए सभी विभागों को आपसी समन्वय से कार्य करने को कहा गया है।

CM inspection of ISB: औचक निरीक्षण के दौरान बस में चढ़कर यात्रियों से की बात

रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए भी बड़ी संख्या में उद्योगों की स्थापना

भविष्य में अधिक से अधिक उद्योग राज्य में स्थापित हों, इसके लिए उद्यमियों को ब्रांड एंबेसडर बनाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। परिवहन संपर्क और आधारभूत ढांचे के क्षेत्र में उत्तराखंड में तेजी से काम हो रहा है। अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए भी बड़ी संख्या में उद्योगों की स्थापना जरूरी है। उन्होंने उद्योगों से जुड़े से सभी व्यक्तियों से राज्य के विकास में सहयोगी बनने की अपेक्षा की। इससे पूर्व औद्योगिक संगठनों (Industrial organizations) के प्रतिनिधियों ने सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों से संबंधित विभिन्न समस्याओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराया। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से सरकारी विभागों में होने वाली खरीद पर स्थानीय उद्योगों को वरीयता देने, निर्यात संवद्र्धन और अन्य विषयों पर आवश्यक कार्यवाही करने का अनुरोध भी मुख्यमंत्री से किया।

मुलाकात करने वाले संगठनों में औद्योगिक संगठन (Industrial organizations) हरिद्वार, सिडकुल इंटरप्रेन्योर वेलफेयर एसोसिएशन, भगवानपुर इंडस्ट्रीयल एसोसिएशन, बहादराबाद इंडस्ट्रीयल डेवलपमेंट वेलफेयर एसोसिएशन एवं रुड़की स्माल स्केल इंडस्ट्रीयल एसोसिएशन के प्रतिनिधि शामिल थे।

स्टार्टअप में युवाओं को प्रतिभा दिखाने का मौका: निदेशक

वाणिज्य उत्सव में युवा उद्यमियों का आह्वान करते हुए उद्योग निदेशक सुधीर चंद्र नौटियाल ने कहा कि युवावर्ग स्टार्टअप के रूप में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करें। प्रदेश सरकार प्रतिभावान युवा उद्यमी को हर संभव मदद दे रही है। युवाओं को स्टार्टअप के रूप में विकसित करने के लिए प्रदेश सरकार ने आठ इन्क्यूबेटर की स्थापना की है।

स्टार्टअप को पचास-पचास हजार रुपये नकद पुरस्कार दिया

यह जानकारी उद्योग निदेशक ने बुधवार को सुभाष रोड स्थित एक होटल सभागार में चल रहे दो दिवसीय वाणिज्य उत्सव के समापन समारोह को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने बताया कि राज्य में एक सौ स्टार्टअप को सरकार की ओर से मान्यता प्राप्त है। कालेज व विवि स्तर पर युवा उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश उद्योग निदेशालय राज्यभर में स्टार्टअप बूथ कैंप का आयोजन करता है, जिनके माध्यम से राज्य के राजकीय व निजी कालेजों, इंजीनियरिंग संस्थानों एवं विश्वविद्यालयों से प्रतिभाओं को मंच प्रदान करता है। इसके बाद राज्य स्तरीय स्टार्टअप ग्रैंड फिनाले का आयोजन करता है जिसमें टाप दस युवाओं को विजेता चुना जाता है जिन्हें प्रत्येक स्टार्टअप को पचास-पचास हजार रुपये नकद पुरस्कार दिया जाता है।

सिडकुल के महानिदेशक रोहित मीणा ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत बीस से छब्बीस सितंबर के मध्य स्टार्टअप सप्ताह मनाया जा रहा है। जिसके तहत बुधवार को स्टार्टअप समिट आयोजित किया गया। उद्योग उपनिदेशक राजेंद्र सिंह कहा कि बताया कि मान्यता प्राप्त स्टार्टअप को सरकार की ओर से प्रोत्साहन दिया जा रहा है जो इस प्रकार है।

यह सहयोग दिया जा रहा

एक वर्ष तक दस हजार मासिक भत्ता

आवश्यकता आधारित सहायता के रूप में पांच लाख रुपये की सहायता

भारतीय पेटेंट पर एक लाख व अंतरराष्ट्रीय पेटेंट पर पांच लाख की सहायता

स्टाम्प शुल्क पर शत फीसद की छूट।

CM inspection of ISB: औचक निरीक्षण के दौरान बस में चढ़कर यात्रियों से की बात

Leave a Reply