डी आई टी यूनिवर्सिटी का कैंपस छात्रों से हुआ गुलज़ार

0
518

देहरादून। डी आई टी यूनिवर्सिटी आज से छात्रों के लिए खोल दी गई। जिससे कैंपस में लगभग 10  माह बाद छात्रों सहित अध्यापक भी खासे उत्साहित दिखे।दस माह के लंबे कोविड ब्रेक के बाद आज डी आई टी यूनिवर्सिटी को छात्रों के लिए खोला गया। लोकल सहित नेपाल, अफगानिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश, भूटान आदि देशों से भी छात्र यूनिवर्सिटी पहुंच के खासे उत्साहित दिखे। यूनिवर्सिटी कैंपस में कोविड के पूरे प्रीकॉशन्स लिए गए थे, जो भी सरकारी गाइडलाइन्स यूनिवर्सिटीज के लिए जारी की गई थी उनका पूरा ध्यान रखा गया था। जगह जगह एंट्रेंस से ले कर रिसेप्शन तक सैनीटाईजेशन का ध्यान रखा गया। छात्रों की कोविड रिपोर्ट के बाद ही उनको यूनिवर्सिटी में एंट्री दी गई।

व्यापार मंडल के संरक्षक अशोक वर्मा ने डीजीपी अशोक कुमार से की भेंट

वाईस चांसलर डॉ के के रैना ने कहा कि

इस बारे में वाईस चांसलर डॉ के के रैना ने कहा कि ये यूनिवर्सिटी के लिए बहुत ही खुशी का मौका है। कोविड के दस माह लंबे ब्रेक के बाद आज शिक्षक और छात्र एक दूसरे से रूबरू हुए है, यूनिवर्सिटी में एक बार फिर से छात्रों के आने से बहार आ गई है।

भी छात्रों और शिक्षकों के लिए मास्क और सैनिटाइजर अनिवार्य

उन्होंने कहा कि सभी छात्रों को कोविड की रिपोर्ट के बाद ही एंट्री दी जा रही है। आगे के लिए यदि कोई छात्र बीमार होता है तो उनके लिए आइसोलेशन वार्डस भी बनाये गए है। होस्टल, कैफेटेरिया सभी को दिन में तीन से चार बार सैनिटाइज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी छात्रों और शिक्षकों के लिए मास्क और सैनिटाइजर अनिवार्य किया गया है।

महिला सशक्त्तिकरण एवं बाल विकास विभाग की बैठक आयोजित

Leave a Reply