सिडकुल की सिंथेटिक कंपनी में हुआ ब्लास्ट

0
1006

रूद्रपुर में सिडकुल स्थित सालासर सिंथेटिक फैक्ट्री में ब्लास्ट से यार्ड में काम कर रहे दो श्रमिक उसकी चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गए। आनन-फानन में कंपनी प्रबंधन ने दोनों श्रमिकों को इलाज के लिए निजी अस्पताल भर्ती कराया। जहां हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने उन्हें हल्द्वानी एचटीएच रेफर कर दिया।

जानकारी के अनुसार सिडकुल पंतनगर के सेक्टर चार के प्लॉट नंबर दो स्थित सालासर सिंथेटिक फैक्ट्री में गुरुवार सुबह करीब छह बजे उस समय हड़कंप मच गया। जब कंपनी में फुली ड्राई यार्ड में दाना फंसने से जोरदार विस्फोट हो गया। आस-पास केमिकल होने से आग ने तुरंत विकराल रूप पकड़ लिया। इससे पास में ही काम कर रहे फुलसुंगा निवासी धमेंद्र पुत्र राजेंद्र और खेड़ा निवासी सोमपाल पुत्र भगवानदास गंभीर रूप से झुलस गए।

आनन फानन में कंपनी प्रबंधन ने दोनों घायलों को रुद्रपुर निजी अस्पताल पहुंचाया। यहां हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने उन्हें हल्द्वानी एसटीएच रेफर कर दिया। घटना की सूचना पर पहुंचे अग्निशमन के वाहन ने काफी मशक्कत कर आग पर काबू पाया। मामले पर जब कंपनी प्रबंधन से वार्ता करनी चाही तो उन्होंने मामले पर कुछ भी कहने से मना कर दिया।

गुरुवार सुबह हादसे के बाद कंपनी में अफरा तफरी मच गई। तुरंत कंपनी प्रबंधन कंपनी में पहुंच गया। इस दौरान उन्होंने कंपनी का मुख्य गेट बंद करवा दिया। सुबह की शिफ्ट में पहुंचे कर्मियों को भी गेट से ही बैंरग लौटा दिया। गेट में तैनात गार्ड को किसी को भी अंदर न भेजने के सख्त निर्देश दे दिये। गुरुवार तड़के कंपनी में हुए विस्फोट का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दोपहर बारह बजे तक धमाके की जगह से धुआं ही उठ रहा था।

कई कंपनियों में जीर्ण-शीर्ण हालत

सिडकुल क्षेत्र में कई कंपनियां ऐसी हैं, जहां आग लगने पर सुरक्षा का कोई पुख्ता इंतजाम नहीं है। हालांकि कोई भी कंपनी प्रबंधन इसे मानने से इनकार ही करता है। मगर कंपनी के ऊपर जीर्ण-शीर्ण हालत में लगी चिमनियां कंपनी के इन हालातों को साफतौर पर बयां करती है।

पंतनगर के एफएसओ प्रेम सिंह मिरौला ने बताया कि बीते माह निरीक्षण के दौरान उन्होंने कंपनी प्रबंधन को अग्निशमन के साधन दुरुस्त करने के निर्देश दिए थे। इसके बावजूद कंपनी प्रबंधन ने ध्यान नहीं दिया था। कंपनी की फायर एनओसी भी लैप्स होने की बात सामने आ रही है। इन पहलुओं से भी मामले की जांच की जा रही है।

इसकी रिपोर्ट बनाकर जल्द तैयार की जाएगी। सालासर कंपनी में गुरुवार सुबह हादसे में दो श्रमिक गंभीर घायल हुए हैं। इसके लिए जांच के निर्देश दे दिए गए हैं। जांच में फैक्ट्री की लापरवाही सामने आती है तो आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply