Asha sangini app: मुख्यमंत्री पुष्‍कर धामी ने किया लांच

देहरादून: Asha sangini app  दून व आसपास के मरीजों को एक बड़ी सौगात मिल गई है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दून मेडिकल कॉलेज की नई ओटी, आईसीयू व इमरजेंसी बिल्डिंग का लोकार्पण किया। सात साल से बिल्डिंग का निर्माण चल रहा था।

Uttarakhand Foundation Day : सीएम ने ली परेड की सलामी, कहा- पाठ्य पुस्तकों में शामिल होगा आंदोलन का इतिहास

इसके बाद अब न केवल शहर बल्कि पहाड़ के दूरस्थ क्षेत्र से आने वाले मरीजों को भी सुविधा होगी। इस दौरान मुख्यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी ने आशा संगिनी एप (Asha sangini app) भी लांच किया। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत भी उपस्थित रहे।

माड्यूलर आपरेशन थिएटर तैयार

प्राचार्य डा. आशुतोष सयाना ने बताया कि डिप्टी एमएस डा. धनंजय डोभाल की अगुवाई में ओटी, निक्कू, पीकू आदि यहां शिफ्ट कर दिए गए हैं। बाकी शिफ्टिंग की जा रही है। इसके अलावा पंजीकरण, बिलिंग व आयुष्मान योजना के काउंटर भी यहां शुरू कर दिए गए हैं।

यहां माड्यूलर आपरेशन थिएटर तैयार किए गए हैं। ये ओटी उच्च स्तरीय मानकों के अनुसार बनाए गए हैं। जिनमें डिजिटल व हाईटेक उपकरण, बैक्टीरिया, वायरस से बचाव के लिए हेपा फिल्टर, आर्द्रता व तापमान नियंत्रित करने की व्यवस्था आदि शामिल है।

एएनसी-पीएनसी वार्ड भी यहीं संचालित किए जाएंगे। कहा कि केंद्रीयकृत आइसीयू, इमरजेंसी, ट्रामा, बर्न यूनिट नई बिल्डिंग में शुरू होने से मरीजों को राहत मिलेगी। बता दें, पिछले दो सालों से कई बार इस बिल्डिंग की डेडलाइन बदली गई है।

प्रदेश में 12018 आशा तैनात

इस दौरान बताया गया कि एनएचएम के माध्यम से प्रदेश में 12018 आशा तैनात हैं। इनके माध्यम से मातृ-शिशु स्वास्थ्य, टीकाकरण करने के अलावा स्वास्थ्य संबंधित डाटा तैयार किया जाता है।

आशा के काम की निगरानी के लिए स्वास्थ्य विभाग ने आशा संगिनी एप तैयार किया है। इससे उच्च अधिकारी उनके काम की मॉनीटरिंग करेंगे। काम के आधार पर उन्हें हर महीने ऑनलाइन भुगतान किया जाएगा। एनएचएम के तहत आशाओं को स्मार्ट फोन भी दिए जा रहे हैं।

Funded UKPFMS Project: के मिड टर्म रिव्यू की बैठक

Leave a Reply