पीएनबी ने ऋण देने की प्रक्रिया बनाई सरल

0
704

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए पंजाब नेशनल बैंक जोरशोर से जुटा हुआ है। बुधवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मिलने पहुंचे पंजाब नेशनल बैंक के मंडल प्रमुख अनिल खोसला ने बताया कि उन्होंने किसानों को ऋण देने की प्रक्रिया सरल बनाए जाने की जानकारी दी।
खोसला ने मुख्यमंत्री को उत्तराखंड के विकास में पीएनबी द्वारा किये जा रहे कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होने बताया कि बैंक द्वारा कृषि ऋण 2207 करोड़ तथा मुद्रा ऋण के लिए इस साल 6473 लाभार्थियों को 120 करोड़ का ऋण दिया जा चुका है। उन्होंने बताया कि सरकार की नीति किसानों की आय वर्ष 2022 तक दोगुना करने की दिशा में पीएनबी जोरशोर से लगा हुआ है। किसानों को फसल ऋण के साथ-2 एलाइड एग्रीकल्चर क्रियाकलापों जैसे डेरी, कुक्कुट पालन, मधुमक्खी पालन, भेड़-बकरी, पाली हाउस, फूलों की खेती, मशरूम उत्पादन, औषधीय पौधे लगाने आदि के लिए ऋण देने के लिए सरल प्रक्रिया अपनाई जा रही हैं। जिससे अधिक से अधिक किसान इसका लाभ उठाकर अपनी आर्थिकी को और अधिक सुदृढ बना सकें।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने पीएनबी द्वारा कृषि के क्षेत्र में किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि पीएनबी प्रदेश भर के किसानों की आर्थिकी मजबूत करने के लिए भौगोलिक परिस्थितियों के अनुसार योजना तैयार करे। योजना का उचित प्रचार-प्रसार भी करे, जिससे सीमांत क्षेत्रों के किसानों को भी योजनाओं का लाभ प्राप्त हो। उन्होने मंडल प्रमुख खोसला से कहा कि इस दिशा में कार्ययोजना तैयार कर जल्द एक बैठक का आयोजन किया जाए, जिसमें कृषि के क्षेत्र में बैंक द्वारा जो योगदान दिया जा सकता है, उस पर सार्थक चर्चा हो सके।

Leave a Reply