UFBU का ऐलान कल से सभी बैंकों में रहेगी हड़ताल,निपटा लीजिए जरूरी काम

0
311

युनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) ने बैंकिंग क्षेत्र में सुधार समेत अन्य मुद्दों के विरोध में 22 अगस्त को राष्ट्रव्यापी हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है। यूनियन के एक शीर्ष नेता ने सोमवार को यह जानकारी दी।

ऑल इंडिया बैंक इंप्लाइज एसोसिएशन (एआईबीईए) के महासचिव सी. एच. वेंकटचलम ने बताया कि, ‘हमने हड़ताल का नोटिस दिया है, हड़ताल 22 अगस्त को होगी, जिसमें समूचा बैंकिंग क्षेत्र शामिल होगा।’

अगर आपको बैंक से जुड़ा कोई जरूरी काम हो तो इसे आज ही निपटा लें क्योंकि कल यानी मंगलवार को 10 लाख बैंक कर्मचारी हड़ताल पर जा सकते हैं। ये कर्मचारी यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) के बैनर तले हड़ताल पर जाएंगे।

सरकार की ओर से एकीकरण के कदम समेत कुछ अन्य मांगों के मसले पर UFBU ने 22 अगस्त (मंगलवार) को हड़ताल करने का ऐलान किया है। संगठन की ओर से कहा गया है कि अगर उनकी मांगें नहीं मानीं गईं तो उनकी हड़ताल आगे भी जारी रहेगी।

हड़ताल का नोटिस कुछ दिन पहले ही दे दिया गया था

उन्होंने कहा कि इस हड़ताल का नोटिस कुछ दिन पहले ही दे दिया गया था। यूएफबीयू समेत बैंकिंग क्षेत्र के नौ यूनियनों ने इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) से अनुरोध किया है कि वेतन संशोधन समेत अन्य मुद्दों का जल्दी समाधान किया जाए।

प्राइवेट बैंक कर सकते हैं काम

हालांकि इस बात की संभावना है कि प्राइवेट सेक्टर के बैंकों में कामकाज सामान्य रहे। HDFC,AXIS बैंक, कोटक महिंद्रा, ICICI बैंक में कामकाज सामान्य रह सकता है। UFBU का दावा है कि उसके सदस्यों की संख्या 10 लाख है। बता दें कि बैंकिंग कारोबार का 75 फीसदी हिस्सा 21 सार्वजनिक बैंकों के पास है।

हड़ताल पर जाने के अलावा कोई और चारा नहीं

UFBU में नौ अन्य यूनियन हैं जिसमें आल इंडिया बैंक आफिसर्स कनफेडरेशन (एआईबीओसी), ऑल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन (आईबीईए) और नेशनल आर्गेनाइजेशन आफ बैंक वर्कर्स (एनओबीडब्ल्यू) शामिल है।

AIBOC के महासचिव डीटी फ्रैंको ने समाचार एजेंसी PTI से कहा कि मुख्य श्रम आयुक्त के साथ बैठक विफल रही। अब हड़ताल पर जाने के अलावा कोई और चारा नहीं है। सरकार और बैंकों के प्रबंधन की ओर से कोई आश्वासन नहीं मिला है।

जनविरोधी बैंकिंग सुधारों को लेकर है हड़ताल

फ्रैंको ने कहा कि यूनियनों द्वारा उठाए गए मांगों के समाधान करने के सभी प्रयासों से कोई फर्क नहीं पड़ा और इसलिए, UFBU ने 22 अगस्त को प्रस्तावित हड़ताल के साथ आगे बढ़ने का फैसला किया।

बता दें कि हड़ताल पर जा रहे संगठनों कहा कहना है कि उनकी हड़ताल सरकार के जनविरोधी बैंकिंग सुधारों को लेकर है। संगठनों ने बैंकिंग शुल्कों में वृद्धि को भी अनुचित माना है।

खराब ऋणों की वसूली के लिए कठोर उपाय तथा एफडीआरडीआइ बिल वापसी की मांग प्रमुख है। इस तरह छह मांगें सरकार के समक्ष रखी गई हैं।

ये भी हैं मांगे

मांग है कि बैंकिंग क्षेत्र में पब्लिक सेक्टर बैंकों के निजीकरण और विलयीकरण ना किया जाए। संगठनों की कहना है कि बैंक बोर्ड ब्यूरो का गठन सभी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को एक बैकिंग निवेश कंपनी के तहत लाने के लिए किया गया है। जिससे सरकारी बैंकों में सरकारी हिस्सेदारी 50 प्रतिशत से कम हो जाएगी। मांगहै कि एनपीए वसूली पर पार्लियामेंट कमेटी की संस्तुतियां लागू की जाएं और जानबूझकर ऋण ना अदा करने वालों को अपराधी घोषित किया जाए।

आगे पढ़ें- हड़ताल के दौरान कैसे निपटाएं बैंकिंग के छोटे-मोटे काम।

इंटरनेट बैंकिग/फोन बैंकिंग

अगर आपको किसी तरह का लेन-देन करना है तो आप ऑनलाइन ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। बैंक बंद होने की दशा में भी आपका ट्रांजेक्शन होगा। इसी तरह मोबाइल बैंकिंग के जरिए भुगतान कर सकते हैं या पैसे भेज सकते हैं। आप कैशलेश के माध्यम से खरीददारी कर सकते हैं।

ATM से ATM में ट्रांसफर करें पैसे

अगर आपके पास इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा नहीं है तब भी आप बिना बैंक जाए बैंकिंग से जुड़े कुछ जरूरी काम निपटा सकते हैं। मसलन आपको अगर पैसा ट्रांसफर करना है तो आप नजदीकी ATM में जाकर ATM के जरिए ही पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं।

इसके लिए जरूरी ये है कि जिस बैंक में आपका खाता हो आप उसी बैंक के ATM में जाएं और जिस खाते में रकम ट्रांसफर करनी है वह खाता भी उसी बैंक का होना चाहिए।

उदाहरण के तौर पर आपका खाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में है और जिसके खाते में आपको पैसा ट्रांसफर करना है उस व्यक्ति का खाता भी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में है, तो आपको स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के ATM में जाकर पैसा ट्रांसफर करना होगा।

कैसे ट्रांसफर करें पैसे

ATM में जाकर आप स्वाइप करने के बाद ट्रांसफर के विकल्प पर बटन दबाएं, फिर आपको आपका पिन एटीएम में डालना होगा इसके बाद तीन से चार विकल्प दिखेंगे जिसमें से एक विकल्प होगा ATM TO ATM ट्रांसफर।

आपको ये विकल्प चुनना होगा फिर जिस व्यक्ति के खाते में पैसा ट्रांसफर करना है उस व्यक्ति के एटीएम कार्ड का नंबर टाइप करना होगा, इसके बाद कन्फर्मेंशन के लिए दोबारा एटीएम नंबर टाइप करना होगा। इसके बाद आपको ट्रांसफर करने वाली रकम टाइप करनी होगी।

फिर आपसे एकाउंट टाइप के बारे में पूछा जाएगा, अकाउंट टाइप सलेक्ट करने के बाद ट्रांसफर प्रोसेस शुरू हो जाएगा। स्क्रीन पर आपको ट्रांजेक्शन पूरा होने का एक मैसेज दिखेगा।

मोबाइल वॉलेट के जरिए करें भुगतान या भेजें पैसे

इन सब के अलावा आप मोबाइल वॉलेट के जरिए भी पैसे भेज सकते हैं। अगर आपके पास आपके पास पेटीएम, भीम एप, पेयू मनी, फोन पे एप आदि हैं तो आप इन मोबाइल वॉलेट के जरिए पैसे भेज सकते हैं। मोबाइल वॉलेट के जरिए पैसे भेजना बेहद आसान है और इससे आप तुरंत भुगतान भी कर सकते हैं।

भीम एप के जरिए भेज सकते हैं पैसे

अगर आपको किसी को आपात स्थिति में पैसे भेजने हैं तो आप भीम एप की मदद से पैसे भेज सकते हैं। इसमें आप सीध खाते में पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं। भीम एप से एक बार में 10 हजार रुपए ही भेजे जा सकते हैं।

 

LEAVE A REPLY