Security of PM Modi : पीएम मोदी की सुरक्षा में सेंध मामले में नया मोड़ 

नई दिल्ली। Security of PM Modi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक मामले में नया मोड़ सामने आया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा मामले की जांच के लिए समिति गठित किए जाने के फैसले के बाद सामने आया है कि सुप्रीम कोर्ट के 50 से ज्यादा वकीलों को अंतरराष्ट्रीय नंबर से फोन किया गया है। दावा किया जा रहा है कि यह फोन कॉल पीएम मोदी की सुरक्षा में सेंध मामले से संबंधित थे। फोन करके पीएम की सुरक्षा में सेंध लगाने की जिम्मेदारी ली है। सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट ऑन रिकॉर्ड (AOR) वकीलों को विदेश से गुमनाम काल आ रही हैं । कॉल में पीएम की सुरक्षा चूक के लिए जिम्मेदारी ली गई है। साथ ही कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट को इस मामले की सुनवाई नहीं करनी चाहिए।

Lockdown in India: क्‍या देश में लगेगा तीसरा लाकडाउन?

Security of PM Modi : लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट में भी SFJ का था हाथ

बता दें कि कुछ दिन पहले लुधियाना कोर्ट में हुए ब्लास्ट में भी सिख फॉर जस्टिस संगठन का हाथ था। हमले के आरोपी जसविंदर सिंह मुल्तानी को जर्मनी से गिरफ्तार किया गया था। जसविंदर सिंह मुल्तानी ‘सिख फॉर जस्टिस’ SFJ से जुड़ा हुआ है। गौरतलब है कि सिख फॉर जस्टिस एक खालिस्तानी संगठन है। इस संगठन को भारत सरकार प्रतिबंधित कर चुकी है। संगठन का हेडक्वार्टर अमेरिका में है। इस संगठन के कई सदस्य एनआईए के रडार पर हैं।

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज की अध्यक्षता में होगी जांच

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक ममाले की जांच सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज की अध्यक्षता में गठित कमेटी करेगी। मामले की सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत कमेटी गठित करने के लिए राजी हो गई है। साथ ही केंद्र व पंजाब सरकार को अपनी-अपनी जांच रोकने का आदेश दिया गया है। सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मामले को गंभीरता से लिया गया है। पंजाब सरकार ने भी माना है कि सुरक्षा में चूक हुई है, लेकिन हम यह तय कर रहे हैं कि जांच का दायरा क्या होगा।

Uttrakhand news : CM ने प्रदान की विभिन्न विकास कार्यों हेतु वित्तीय स्वीकृति

Leave a Reply