Punjab Assembly Election 2022: पठानकोट रैली को पीएम मोदी ने किया संबोधित

158

पठानकोट। Punjab Assembly Election 2022:  प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी रैली ने पठानकोट में आयोजित रैली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर जमकर हमले किए। उन्‍होंने कहा दोनों पाटियां एक ही हैं। दोनों यहां पंजाब में बस नूरा कुश्‍ती (नकली कुश्‍ती) कर रहे हैं। कांग्रेस ने देश और पंजाब की धरती पर क्‍या-क्‍या कुकृत्‍य नहीं किए। उन्‍होंने नवां पंजाब का संकल्‍प दोहराते हुए राज्‍य के लोगों से इस बार पांच साल सेवा करने का मौका मांगा।

Bappi Lahiri Death: बप्पी लहरी के निधन से सदमे में बॉलीवुड, सेलेब्स ने जताया शोक

पीएम मोदी ने नवां पंजाब बनाने के संकल्‍प के संग शुरू किया भाषण

पीएम मोदी ने रैली में नवां पंजाब के संकल्‍प के साथ अपना भाषण शुरू किया। उन्‍हाेंने संत रविदास जयंती पर लाेगों को बधाई दी। उन्‍हाेंने कहा कि उनकी सरकार संत रविदास जी के बताए राह पर चल रही है। उन्‍होंने संत रविदास के एक दोहे का जिक्र भी उन्‍होंने किया। उन्‍होंने पठानकोट से जुड़ी अपनी यादों की चर्चा की। उन्‍होंने कहा कि माझा की इस धरती ने मां जैसा प्‍यार व स्‍नेह दिया। उन्‍होंनेेकहा कि कांग्रेस ने देश और पंजाब की धरती पर क्‍या-क्‍या कुकृत्‍य नहीं किए।

कहा- कांग्रेस और आम आदमी पार्टी एक ही हैं, पंजाब में लड़ रही हैं नूरा कुश्‍ती

उन्‍होंने कांग्रेस व आम आदमी पार्टी पर जमकर हमले किए। उन्‍होंने कहा कि काशी विश्वनाथ का भी ये लोग विरोध करते रहे। काशी विश्वनाथ मंदिर पर सोना चढ़ाने का काम महाराजा रणजीत सिंह ने ही किया था। आस्था से उनको (कांग्रेस व आप) चिढ़ है। इस बार आप को भाजपा को मौका देना है यह पंजाब ने तय कर लिया है। इस बार पक्का परिवर्तन होगा। यह दोनों (कांग्रेस व आप) राम मंदिर का मिलकर विरोध करती रही हैं। दोनों पार्टियां यहां पंजाब में नूरा कुश्‍ती कर रही है, लेकिन दोनों एक ही है। एक पार्टी ने पंजाब को नशे में धकेला तो दूसरी पार्टी दिल्ली को शराब का लती बनाने पर लगी है।

Punjab Assembly Election 2022: बोले- हम मजबूर पंजाब नहीं मजबूत पंजाब बनाएंगे

मोदी ने कहा कि हम मजबूर नहीं मजबूत पंजाब बनाएंगे। पंजाब को खुशहाल बनाएंगे। पंजाब ने हमेशा देश के विकास के लिए योगदान दिया है। कभी पंजाब की पहचान देश के सबसे खुशहाल राज्‍य के रूप में होती थी, लेकिन आज स्थिति बदल गई है। युवा पलायन कर रहे हैं, कर्मचारी आंदोलन कर रहे हैं। यहां सिर्फ एक ही धंधा चल रहा है खनन में लूट का धंधा। माझा को उद्योगों से दूर रखा गया।

उन्‍होंने कहा कि खनन माफिया पर कोई करवाई होती है क्या। कर्मचारियों को डंडे मारते हैं और खनन माफिया के लोगों को शरण मिलती है। ये लोग अपनी मिट्टी से विश्वासघात कर रहे हैं। मैं डंके की चोट पर कहता हूं, माफिया पंजाब छोड़ेगा, पंजाब का नौजवान पंजाब नहीं छोड़ेगा। अभी पंजाब में सिर्फ केंद्र सरकार का इंजन ही काम कर रहा है। हमने पंजाब में नए हाईवे बनाए दिल्ली कटरा एक्सप्रेस वे पंजाब से होकर गुजर रहा है इससे पंजाब के विकास को और प्रगति मिलेगी।

उन्‍होंने कहा कि मोहाली में इंटरनेशनल एयरपोर्ट के साथ-साथ एक और एयरपोर्ट पर भी काम किया जा रहा है। एम्स का काम आपकी आंखों के सामने है। हमने किसानों के लिए पंजाब में तीन फूड पार्क भी बनाए हैं। जितना पैसा केंद्र सरकार ने पंजाब के किसानों की जेब में सीधे भेजा है इससे पहले किसी ने नहीं भेजा। बॉर्डर एरिया के विकास के लिए विशेष अथॉरिटी का गठन होगा हम संकल्प को प्रकल्प में बदलते हैं। भारत माला प्रोजेक्ट में एक लाख करोड़ रुपये से सड़कें बनेंगी। हम संकल्प को प्रकल्प में बदलते हैं। पंजाब के सपनों को पूरा करने के लिए मौका दीजिए। पंजाब के विकास को मौका दीजिए। आप सभी को गुरु रविदास जयंती की बहुत-बहुत बधाई। इसके बाद पीएम मोदी ने चुनाव लड़ रहे भाजपा गठबंधन के सभी उम्मीदवारों को आगे बुलाया और भारत माता की जय के साथ संबोधन समाप्त किया।

कहा- सीमावर्ती इलाकों में स्कूलोंं में एनसीसी का विस्‍तार किया जाएगा

उन्‍होंने कहा कि सीमावर्ती इलाकों में स्कूलों में एनसीसी का विस्तार करने का निर्णय लिया है। इस बजट में हमने वाइब्रेंट विलेज का प्रविधान किया है। सीमा क्षेत्र को बल देने का काम हम कर रहे हैं। हम पंजाब को पंजाबियत की नजर से देखते हैं। हमारे लिए पंजाबियत सबसे प्रमुख है। हमारे विरोधी पंजाब को सियासत के चश्मे से देखते हैं। हम गहराई से देखते हैं हमें करतारपुर कारिडोर के विकास का सौभाग्य मिला। जब भारत विभाजन हुआ नेता कौन थे, कांग्रेस के थे कि नहीं थे। क्या इनको इतनी समझ नहीं आई कि सीमा से छह किलोमीटर दूर हमारे गुरु नानक देव जी की तपोभूमि है। वे इस तपोभूमि को भारत में रख सकते थे या नहीं रखना चाहिए था या नहीं। यह पाप किया है या नहीं किया। उन्होंने हमारी भावनाओं को कुचला है या नहीं कुचला है।

मोदी ने कहा कि 1965 की लड़ाई में भारतीय सेना लाहौर में झंडा फहराने की ताकत से बढ़ रही थी। पहला मौका विभाजन के समय चूके, फिर 1965 में चूक गए। 1971 की लड़ाई में 90000 पाकिस्तानी सैनिकों ने भारतीय सेना के सामने घुटने टेक दिए। अगर दिल्ली में बैठी सरकार में दम होता तो कह देते कि 90000 सैनिक तब मिलेंगे जब गुरु नानक देव जी की तपोभूमि हमें वापस नहीं होगा। इस काम को करना चाहिए था या नहीं करना चाहिए। तीन तीन बार मौके गंवा दिए गए। श्री करतारपुर साहिब को कल तक जो दूरबीन से देखते थे आज वहां जाकर दर्शन करके आते हैं। ऐसे लोगों (कांग्रेस नेताओं) पर कोई भरोसा कर सकते हैं क्या। हमें विरासत पर गर्व है और विकास की जिम्मेदारी भी हम पर है। हम भारत की इस महान विरासत की दुनिया भर को पहचान करवाते हैं। श्री दरबार साहिब में खून खराबे का कलंक इस पार्टी (कांग्रेस) के नाम पर दर्ज है। यही वे लोग हैं जिन्होंने राम मंदिर के निर्माण को रोकने के लिए पूरी ताकत लगा दी

Punjab Assembly Election 2022: कहा – कांग्रेस ने सेना के शौर्य पर उठाए सवाल

पीएम ने कहा कि कांग्रेस ने देश और पंजाब की धरती पर क्या-क्या कुकृत्य नहीं किए। पठानकोट हमले पर देश एकजुट था लेकिन कांग्रेस पार्टी के नेता क्या कर रहे थे। इन लोगों ने सेना के शौर्य पर सवाल उठाए थे या नहीं उठाए थे। हमारी धरती के लाल पर शक किया था या नहीं किया था। कांग्रेस के नेता पुलवामा के हमले की बरसी पर भी अपनी ‘पाप लीला’ बंद नहीं कर पाए । संवेदनशील राज्य की सुरक्षा क्या हम ऐसे लोगों के हाथ में दे सकते हैं क्या। यह आपकी चिंता कर सकते हैं क्या इन्हें फिर से मौका मिल गया तो यह पंजाब की सुरक्षा को खतरे में डालने से पीछे नहीं हटेंगे।

Priyanka Gandhi Road Show: प्रियंका गांधी ने कहा- बनावटी पगड़ी पहन कोई पंजाबी नहीं बन सकता

 

 

Leave a Reply