PM High level meeting: कोविड-19 से निपटने के लिए PM की मुख्‍यमंत्रियों के साथ बैठक

नई दिल्ली। PM High level meeting:  कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की रणनीति बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मुख्यमंत्रियों के साथ एक बैठक कर रहे हैं। बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी मौजूद हैं। सूत्रों की मानें तो इस बैठक प्रधानमंत्री राज्यों में स्वास्थ्य ढांचे की तैयारियों का जायजा लेंगे। इसमें कई अन्‍य महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की संभावना है। सूत्रों ने बताया कि जिन राज्यों में कोरोना तेजी से पांव पसार रहा है, उनमें कुछ नए प्रतिबंधों पर विचार किया जा सकता है। पिछले रविवार को पीएम उच्चस्तरीय बैठक (PM High level meeting) में पीएम ने जिला स्तर पर पर्याप्त सुविधाएं जुटाने और किशोरों के टीकाकरण में तेजी लाने का आह्वान किया था।

Uttar Pradesh news: अयोध्या से ही चुनाव लड़ेंगे CM योगी,172 प्रत्याशियों के नामों पर चर्चा

पीएम मोदी ने खुद दी थी जानकारी

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने उच्‍चाधिकारियों के साथ पिछली बैठक में कोरोना की तीसरी लहर से निपटने को लेकर की गई तैयारियों की समीक्षा की थी। साथ ही जिला स्तर पर स्वास्थ्य ढांचे को तैयार करने का निर्देश दिया था। प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi interact with the Chief Ministers) ने इसी बैठक में कहा था कि राज्यों में हालात की समीक्षा के लिए जल्द ही वह मुख्यमंत्रियों के साथ एक बैठक करेंगे।

देश में कोरोना के 2,47,417 नए मामले

देश में एक दिन में कोरोना के 236 दिनों में सबसे अधिक 2,47,417 नए मामले आए हैं जबकि 380 मरीजों की संक्रमण से मौत हो गई है जिससे महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 4,85,035 हो गई है। इसके साथ ही देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,63,17,927 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 11,17,531 हो गई है जो 216 दिनों में सर्वाधिक है।

ओमिक्रोन के मामले बढ़कर 5,488 हुए

यही नहीं देश में ओमि‍क्रोन वैरिएंट के एक दिन में 620 मामले सामने आए जिसके साथ ही इस वैरिएंट के मामले बढ़कर 5,488 हो गए हैं। इनमें से ओमिक्रोन से पीड़‍ित 2,162 लोग स्वस्थ हो गए या देश छोड़कर चले गए हैं। राज्‍यों में यदि ओमिक्रोन मामलों की बात करें तो महाराष्ट्र में ओमि‍क्रोन के सबसे अधिक 1,367 केस हैं। इसके बाद राजस्थान में इस वैरिएंट के 792 मामले, दिल्ली में 549, केरल में 486 और कर्नाटक में 479 मामले आए।

रिकवरी रेट घटी, विशेषज्ञों ने चेताया

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार देश में कोविड-19 से स्वस्थ होने वाले लोगों की राष्ट्रीय दर कम होकर 95.59 फीसद हो गई है। वहीं विशेषज्ञों ने कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर आगाह किया है। इस बीच मेदांता अस्पताल के वरिष्‍ठ चिकित्‍सक डा. अरविंद कुमार ने कहा है कि टीकाकरण का ओमिक्रान पर असर नहीं दिख रहा है। मौजूदा वक्‍त में कोरोना के मामले बढ़ने के साथ ही लोगों को गंभीर बीमारियां भी हो रही हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि आईसीयू में भर्ती होने वालों की संख्या और संक्रमितों को आक्सीजन की आवश्यकता मनोवैज्ञानिक रूप से उतनी चुनौतीपूर्ण नहीं है जितनी दूसरी लहर में थी।

Lohri festival 2022: जानिए क्यों मनाया जाता है ये पर्व

Leave a Reply