Sponsored
loading...

आतंकवादी अलर्ट के बीच राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने तमिलनाडु के कोयम्बटूर में 5 स्थानों पर छापोमारी

0
2707

नई दिल्ली:राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने तमिलनाडु के कोयम्बटूर में 5 स्थानों पर छापोमारी की है।  इस दौरान लैपटॉप, मोबाइल फोन, सिम कार्ड और पेन-ड्राइव जब्त किए गए। साथ ही जिन पांच लोगों के यहां एनआईए की टीम पहुंची उनसे पूछताछ की गई और अब उन्हें शुक्रवार को कोच्चि में पेश होने का आदेश दिया है। एजेंसी ने इन सभी पर पहले से नजर रखी हुई थी। जानकारी के मुताबिक राज्य में आतंकवादियों के घुसपैठ अलर्ट पर ये कार्रवाई की गई है।

बता दें कि तमिलनाडु में आतंकवादियों की घुसपैठ को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक एनआइए के लिए ये पता लगाने की कोशिश कर रहा है कि कही आतंकवादियों ने इन सभी से संपर्क तो नहीं किया।

जून महीने में की थी ताबतोड़ छापेमारी

एएनआइए ने जून महीने में तमिलनाडु में सात स्थानों पर छापेमारी की थी। दरअसल, श्रीलंका में हुए धमाकों के सिलसिले में ये छापेमारी की गई थी।

20 जून को छापेमारी में की थी 16 लोगों की गिरफ्तारी

जून में ही एनआईए की टीम ने तमिलनाडु के मदुरै, थेनी , नेलाई समेत कई इलाकों में छापेमारी की और 16 लोगों को गिरफ्तार किया था। दरअसल, एएनआईए ने इन सभी के खिलाफ अंसारुल्ला नाम के आतंकी संगठन बनाकर भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश रचने का केस दर्ज किया था।

14 लोगों के घर की थी छापेमारी

एनआइए ने इससे पहले तमिलनाडु के उन 14 लोगों के घरों पर छापेमारी की थी जिनपर आरोप था के वह  ISIS के लिए फंड जुटाते है। ये छापेमारी 20 जुलाई को की गई थी। इन सभी लोगों को भारत ने यूएई से पकड़ा था। इन पर आरोप था कि ये सभी उलकायदा का समर्थन करते है।

केरल में भी की थी छापेमारी

एएनआइ ने पहली बार कोई छापेमारी नहीं की है। इससे पहले भी एएनआइए कई जगहों पर छापेमारी करता रहा है। केरल में तीन जगहों पर छापेमारी की थी। यहा छापेमारी के बाद एनआइए ने तीन सिदंग्धों को हिरासत में लिया था।

loading...

LEAVE A REPLY