आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में अबतक 20 से अधिक लोगों की मौत

0
322

हैदराबाद। Andhra Pradesh, Telangana Rain Updates आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के कई हिस्सों में लगातार हो रही भारी बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। मूसलाधार बारिश ने जन-जीवन को बुरी तरह से प्रभावित कर दिया है। सड़कों और निचले इलाकों में पानी भर गया है। भारी बारिश के कारण हुए हादसों में 20 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। स्थिति को देखते हुए तेलंगाना सरकार ने सभी निजी संस्थानों/कार्यालयों/गैर-आवश्यक सेवाओं के लिए वर्क फ्रॉम होम एडवाइजरी के साथ आज और कल के लिए छुट्टी की घोषणा की है। लोगों को तब तक घर में रहने की सलाह दी जाती है जब तक कि कोई इमरजेंसी न हो।

Anurag Kashyap पर आरोप लगाने वाली अभिनेत्री ने लगाई राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से इंसाफ की गुहार

बताया जा रहा है कि

हैदराबाद के लोगों ने पिछले 20 सालों से ऐसी मूसलाधार बारिश नहीं देखी है। बताया जा रहा है कि इस तबाही का कारण बंगाल की खाड़ी में उठा दबाव है। तेलंगाना के हिस्सों में भारी बारिश के मद्देनजर 48 घंटे का अलर्ट जारी किया गया है। राज्य के मुख्य सचिव ने बताया कि सभी जिलों के प्रशासन को अलर्ट जारी कर दिया गया है। हैदराबाद के कई इलाकों में पिछले 24 घंटे में 20 सेंटीमीटर तक की बारिश दर्ज की गई है।

मौसम विभाग ने केरल के लिए 24 घंटों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया

मौसम विभाग ने केरल के लिए भी अगले 24 घंटों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। तिरुवनंतपुरम, कोल्लम और पठानमथिटा के अलावा अन्य जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से केरल में भारी बारिश हो रही है। मध्य केरल के कई घरों में बारिश और तेज हवा में मामूली नुकसान हुआ और कुछ स्थानों पर पेड़ उखड़ गए।

40 वर्षीय महिला और उसकी 15 वर्षीय बेटी की मौत

पुलिस अधिकारी ने बताया कि भारी बारिश की वजह से कुछ पत्थर दो मकानों की दीवारों पर गिए गए, जिसके कारण आठ लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और चार अन्य लोग घायल हो गए। घायलों का उपचार किया जा रहा है। पुलिस ने बताया कि इस बीच, मंगलवार को हुई भारी बारिश के कारण इब्राहिमपट्टनम इलाके में एक पुराने मकान की छत ढह जाने से 40 वर्षीय महिला और उसकी 15 वर्षीय बेटी की मौत हो गई।

वहीं, हैदराबाद से लोकसभा सदस्य असदुद्दीन ओवैसी ने मौजूदा स्थिति पर ट्वीट करते हुए लिखा कि मैं बंदलागुड़ा में मोहम्मदिया हिल्स का निरीक्षण कर रहा था, जहां दीवार के ढहने से नौ लोगों की मौत हो गई और दो लोग घायल हुए हैं। वहां से जाते समय मैंने शमशाबाद में फंसे बस यात्रियों को अपने वाहन से उनके गंतव्य तक पहुंचाया। अब मैं तालाबकट्टा और यसराब नगर जा रहा हूं।’

मुख्यमंत्री ने किया परेड ग्राउण्ड एवं राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज राजपुर रोड का निरीक्षण

LEAVE A REPLY