Mulayam Singh Yadav : अस्थि कलश लेकर हरिद्वार पहुंचे अखिलेश यादव

2

हरिद्वार: Mulayam Singh Yadav समाजवादी पार्टी के संस्थापक स्व. मुलायम सिंह यादव की अस्थियां सोमवार आज 17 अक्टूबर को हरिद्वार में गंगा में विसर्जित की जाएंगी। इसके लिए अखिलेश यादव पत्‍नी डिंपल यादव और तीनों बच्‍चों के साथ हरिद्वार पहुंचे।

PM Kisan Yojana: की 12वीं किस्त जारी, पीएम ने दिया किसानों को दिवाली गिफ्ट

हरिद्वार के नामामि गंगे घाट पर पूजा का कार्यक्रम शुरु किया गया। पूजा के बाद विधिविधान के साथ स्‍व मुलायम सिंह यावद की अस्थियां गंगा में विसर्जित की जाएंगी।

प्राइवेट विमान से अखिलेश यादव पहुंचे जौलीग्रांट

इससे पहले अखिलेश यादव मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) के अस्थि कलश के साथ परिवार सहित जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे और यहां से सड़क मार्ग से हरिद्वार के लिए रवाना हो गए। अखिलेश यादव परिवार के सदस्यों के साथ सुबह सैफई हवाई पट्टी से निजी विमान के जरिए देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे।

देहरादून एयरपोर्ट पर सपा के कार्यकर्ता मौजूद रहे। अस्थियों के विसर्जन के बाद में देर शाम अखिलेश यादव और परिवार के सभी सदस्य सैफई लौट आएंगे।

नमामि गंगे घाट पर गंगा में विसर्जित की जाएंगी अस्थियां

समाजवादी पार्टी के संस्थापक व संरक्षक दिवंगत मुलायम सिंह यादव के अस्थि विसर्जन कार्यक्रम के स्थल में फिर बदलाव किया गया है। अब विसर्जन नमामि गंगे घाट पर किया जा रहा है।

पहले इसे वीआइपी घाट, फिर हरकी पैड़ी पर किए जाने की सूचना दी गई थी। पर नहर बंदी के कारण वीआइपी घाट व हरकी पैड़ी पर गंगाजल न होने से अब इसे गंगा की मुख्यधारा नमामि गंगे घाट पर किया जा रहा है।

अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए भाजपा नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतिश्वरानंद भी पहुंचे हैं। मुलायम सिंह यादव के भाई रामगोपाल यादव और सूर्यकांत धस्माना भी हरिद्वार पहुंचे हैं।

ये परिवार के सदस्‍य पहुंचे हरिद्वार

अखिलेश यादव के साथ उनकी पत्नी, बच्‍चे, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव, उनके बेटे आदित्य यादव, पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव, अनुराग यादव, पूर्व सांसद तेज प्रताप यादव, मुलायम सिंह यादव के भाई राजपाल यादव, उनकी पत्नी प्रेमलता यादव समेत परिवार के सदस्‍य पहुंचे हैं।

पुलिस और प्रशासन ने पूरे इंतजाम किए

हरिद्वार के तीर्थ पुरोहितों ने अस्थि विसर्जन कार्यक्रम को लेकर सभी तैयारियां कर ली हैं। बताया गया है कि उनके परिवार के 15 लोग हरिद्वार पहुंच रहे हैं। वहीं यह भी संभावना जताई जा रही है कि नेताजी को श्रद्धांजलि देने के लिए लोग यहां पहुंच सकते हैं। इसके लिए पुलिस और प्रशासन ने पूरे इंतजाम किए हुए हैं।

CM dhami in Champawat: टनकपुर में रोजगार मेले के साथ सीएम ने किया 8417.93 योजनाओं का लोकार्पण

 

 

Leave a Reply