KMC Election Result 2021 : तृणमूल कांग्रेस प्रचंड जीत की ओर

कोलकाता। KMC Election Result 2021 :  कोलकाता नगर निगम (केएमसी) चुनाव में भी सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रचंड जीत की ओर आगे बढ़ रही है। 144 सीटों में से, टीएमसी ने 54 पर जीत हासिल की है और 78 पर आगे चल रही है। अधिकतर सीटों के रुझान सामने आ चुके हैं जिसमें सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) एक बार फिर सब पर भारी दिख रही है। इधर, मतगणना के बीच तृणमूल कांग्रेस का जश्न भी शुरू हो गया है। कोलकाता के कालीघाट स्थित मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी के घर के बाहर अभी से ही बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ताओं का जुटना शुरू हो गया है। बता दें कि कोलकाता में 19 दिसंबर को संपन्‍न हुए नगर निगम चुनाव में लगभग 64 प्रतिशत मतदान हुआ था। आज नतीजे आने के साथ ही तय हो जाएगा कि तृणमूल कांग्रेस दोबारा कोलकाता नगर निगम चुनाव में कब्‍जा करने में कामयाब रहती है या भारतीय जनता पार्टी अपना जनाधार बढ़ाने में सफल होती है।

National President Tejashwi Surya : के साथ श्रीनगर दौरे पर सीएम धामी

KMC Election Result 2021 Live Updates

15:02 PM – मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने केएमसी चुनाव में जीत के लिए सभी उम्मीदवारों को बधाई देते हुए कहा, अत्यंत परिश्रम और कृतज्ञता के साथ लोगों की सेवा करना याद रखें। ममता ने कहा मैं एक बार फिर टीएमसी पर विश्वास करने के लिए केएमसी के प्रत्येक निवासी को तहे दिल से धन्यवाद देती हूं।

13:50 PM- कोलकाता नगर निगम के 88 नंबर वार्ड से माला राय जीतीं। माला राय तृणमूल कांग्रेस की सांसद भी हैं। 85 नंबर वार्ड से तृणमूल के देवाशीष कुमार ने जीत हासिल की है। देवाशीष कुमार कोलकाता नगर निगम की प्रशासक मंडली के महत्वपूर्ण सदस्य रहे हैं। 118 नंबर वार्ड से तृणमूल के एक और दिग्गज नेता तारक सिंह ने भी जीत दर्ज की। प्राप्त जानकारी के मुताबिक तृणमूल अब तक 54 सीटें जीत चुकी है और 78 पर बढ़त बनाए हुए है।

13:38 PM- कोलकाता के महाराष्ट्र निवास में टीएमसी नवनिर्वाचित केएमसी चुनाव जीत कर आए सदस्यों की बैठक में 23 दिसंबर को कोलकाता के मेयर का चुनाव किया जायेगा।

13:05 PM- केएमसी चुनाव में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रचंड जीत की ओर आगे बढ़ रही है। जीत पर खुशी जताते हुए मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने कहा- कोलकाता के लोगों के प्‍यार के लिए उन्‍हें सलाम। ममता ने कहा ये जीत लोकतंत्र की जीत है।

12:28PM- पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने जीत पर खुशी जताते हुए कहा, यह एक ऐतिहासिक जीत है, इसने एक स्पष्ट संदेश दिया है कि लोगों ने हमारे काम को स्वीकार किया है। बीजेपी, वाम और कांग्रेस कहीं नहीं है। नवीनतम आधिकारिक रुझानों के अनुसार, 144 सीटों में से टीएमसी ने 54 पर जीत हासिल की है और 78 पर आगे चल रही है।

12: 25 PM- नवीनतम आधिकारिक रुझानों के अनुसार, 144 सीटों में से, टीएमसी ने 54 पर जीत हासिल की है और 78 पर आगे चल रही है।

12:15 PM- भाजपा प्रत्‍याशी विजय ओझा ने जीत पर खुशी जताते हुए कहा यह वार्ड नंबर 23 के लोगों की जीत है। चुनाव की तटस्थता के बारे में कहने को कुछ नहीं है, चुनाव के दौरान विभिन्न वार्डों में हुई घटनाओं से सभी वाकिफ हैं। अगर चुनाव निष्पक्ष रूप से होता तो भाजपा को और सीटें मिलतीं।

11: 45 AM- 2015 में कोलकाता नगर निगम चुनाव में सत्तारूढ़ टीएमसी ने 144 में से 114 वार्ड पर जीत दर्ज की थी। दूसरे स्थान पर मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) रही थी।

11:30AM- तृणमूल की आंधी में भी वार्ड नंबर 22 से भाजपा प्रत्याशी मीना देवी पुरोहित एक बार फिर अपनी सीट बचाने में कामयाब रहीं हैं। इस वार्ड से उन्होंने लगातार छठी बार जीत दर्ज की है। इस सीट पर चुनाव नतीजे की घोषणा की जा चुकी है।

11:20 AM- विधानसभा चुनाव के बाद कोलकाता नगर निगम चुनाव में भी तृणमूल कांग्रेस जबरदस्त जीत की ओर आगे बढ़ रही है। कुल 144 वार्डो में से तृणमूल कांग्रेस137 सीटों पर इस समय आगे हैं।

11:16 AM- कोलकाता नगर निगम चुनाव के नतीजे आने से पहले अभिषेक बनर्जी अब ममता बनर्जी के घर पहुंच चुके हैं। कुल 144 वार्ड में से 134 में TMCआगे चल रही है।

11:00 AM- कोलकाता नगर निगम के चुनाव में भी जबर्दस्त जीत की तरफ तृणमूल कांग्रेस 144 वार्डो में से 114 वार्डों में वह इस समय आगे हैं।

10:30 AM- मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी के घर के बाहर टीएमसी का जश्न भी शुरू हो गया है। पार्टी कार्यकर्ताओं का जुटना शुरू हो गया है।

केएमसी चुनाव : पिछली बार के नतीजे

पिछली बार के नतीजे अगर हम देखे तो 2015 में कोलकाता नगर निगम चुनाव में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को 144 में से 114 वार्ड में जीत मिली थी। दूसरा स्थान माकपा को मिला था। जहां माकपा को 2010 की 33 सीटों के मुकाबले 2015 में केवल 15 सीट मिली थी। भाजपा को सात सीट मिली थी जो 2010 के तीन सीट के मुकाबले कुछ ज्यादा थी। वहीं, कांग्रेस को 2010 में आठ सीट के मुकाबले 2015 में पांच सीट मिली थी ।

केएमसी चुनावों में ‘धांधली’ पर कानूनी सहारा तलाश रही है माकपा

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने कहा कि वह रविवार को हुए कोलकाता नगर निगम (केएमसी) चुनावों में कथित तौर पर बड़े पैमाने पर धांधली को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग कार्यालय के समक्ष विरोध प्रदर्शन करने के अलावा कानूनी सहारा लेने पर विचार कर रही है। माकपा और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) दोनों ने केएमसी चुनावों के दौरान सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस द्वारा धांधली और हिंसा का आरोप लगाया है, जिसमें लगभग 40.5 लाख मतदाताओं में से 63.63 प्रतिशत ने रविवार शाम पांच बजे तक अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

त्रिस्‍तरीय सुरक्षा का खास इंतजाम

मतगणना केंद्रों के बाहर 200 मीटर की दूरी पर धारा 144 लागू की गई है। हर केंद्र पर त्रिस्‍तरीय सुरक्षा का खास इंतजाम किया गया है। किसी भी पार्टी कार्यकर्ता को इस दायरे में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई है। सुरक्षा व्‍यवस्‍था का पूरा जिम्‍मा कोलकाता पुलिस को दिया गया है। कोरोना संक्रमण को ध्‍यान में रखते हुए मतगणना केंद्रों पर उपस्थित सभी एजेंटों के लिए कोविड वैक्‍सीन की दोनों खुराक लेना आवश्‍यक है।

KMC Election Result 2021 : 2015 के आंकड़े

पिछली बार के मुकाबले के नतीजे अगर हम देखें तो 2015 में कोलकाता नगर निगम चुनाव में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को 144 में से 114 वार्ड पर जीत मिली थी। दूसरा स्थान मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) को मिला था। जहां माकपा को 2010 की 33 सीटों के मुकाबले 2015 में केवल 15 सीटों पर ही सफलता हासिल हुई थी।

Omicron in Delhi : दिल्ली में 24 नए मामले, 50 से ज्यादा हुई संक्रमितों की संख्या

Leave a Reply