जम्मू कश्मीर के बडगाम में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़

0
166

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के बडगाम में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई हैं। जम्मू कश्मीर में आतंकी अपने नापाक इरादे से बाज नहीं आ रहे हैं। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया कि बडगाम के चदौरा इलाके में मुठभेड़ शुरू हुई। बडगाम मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया है, पुलिस और सुरक्षा बल कार्रवाई कर रहे हैं। यह मुठभेड़ एसओजी चडूरा, 53आरआर और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम और आतंकियों के बीच चल रही है। पुलिस और सुरक्षा बलों की ओर से संयुक्त रूप से सर्च ऑपरेशन जारी है।

बडगाम मुठभेड़ में एक आतंकी ढेर

बडगाम मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया है। जम्मू-कश्मीर में बडगाम के चदूरा इलाके में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ चल रही है। मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया है।पुलिस और सुरक्षा बलों की ओर से संयुक्त रूप से सर्च ऑपरेशन जारी है।

इससे पहले दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के चकुरा इलाके में बुधवार को सुरक्षा बलों और आंतकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में दो अज्ञात आतंकवादी मारे गए। सुरक्षा बलों को आंतकवादियों के छुपे होने की विशेष सूचना मिली, जिस आधार पर उन्होंने एक तलाशी अभियान चलाया। जैसे ही सुरक्षा बलों ने आंतवादियों के ठिकानों को घेरा, वहां छिपे आंतकवादियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग करनी शुरू कर दी। इसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।

जिहादियों की जमात में शामिल एसपीओ मारा गया

दूसरी तरफ, सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) का एक जवान, जो जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में अपने कैंप से एके-47 मैगजीन के साथ भाग गया था, उसे शुक्रवार को राजौरी जिले में गिरफ्तार कर लिया गया। श्रीनगर के बडग़ाम जिले के नागम चाडूरा इलाके में मुठभेड़ में दो दिन पहले दो सरकारी एसाल्ट राइफलें लेकर फरार हुआ जिहादियों की जमात में शामिल होने वाला पुलिस एसपीओ अल्ताफ हसन मारा गया है। फिलहाल, अभी पुलिस की आधिकारिक पुष्टि का इंतजार है।

तीन दिन पहले बड़गाम से अपनी सरकारी इनसास राइफल और मैगजीन लेकर फरार होने वाला एसएसबी का जवान राजौरी से पकड़ा गया है। एसएसबी के जवान की पहचान अल्ताफ के रूप में हुई है और वह राजौरी का ही रहने वाला बताया जा रहा है।

पुलिस द्वारा एसएसबी के जवान से पूछताछ जारी है। पुलिस उक्त जवान से हथियार लेकर भागने का कारण पता लगा रही है। पुलिस की ओर से एसएसबी की 14वीं वाहिनी में तैनात अधिकारियों को इस बाबत सूचित कर दिया गया है। कश्मीर घाटी में गत 13 अक्टूबर को सीमा सशस्त्र बल एसएसबी के एक जवान समेत दो सुरक्षाकर्मी अपने सरकारी हथियारों संग फरार हो गए थे। पुलिस ने इन दोनों मामलों का संज्ञान में लेते हुए लापता सुरक्षाकर्मियाें का पता लगाने केे लिए सघन तलाशी अभियान चलाया था। लापता एसपीओ के कथित तौर पर जैश ए मोहम्मद में शामिल होने की सूचना है। किसी पुलिसकर्मी के हथियारों संग फरार हो आतंकियों से जा मिलने का यह इस वर्ष का पहला मामला है।

LEAVE A REPLY