johnson and johnson vaccine: की डोज उपलब्ध कराएगा भारत

0
110

वाशिंगटन। johnson and johnson vaccine: भारत अक्टूबर के अंत तक क्वाड वैक्सीन साझेदारी के तहत जानसन एंड जानसन वैक्सीन की 8 मिलियन (80 लाख) खुराक उपलब्ध कराएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिखर सम्मेलन में इस संबंध में घोषणा की है। विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। श्रृंगला ने कहा कि भारत सहित क्वाड राष्ट्र टीकों के लिए भुगतान करेंगे। अमेरिका, भारत, आस्ट्रेलिया और जापान के नेताओं ने वाशिंगटन में पहली व्यक्तिगत क्वाड नेताओं की बैठक की। इस दौरान उन्होंने कोरोना महामारी को रोकने के लिए मिलकर काम करने की अपनी प्रतिबद्धता जताई।

Punjab New Cabinet: पंजाब की नई कैबिनेट का एलान, छह नए चेहरे

श्रृंगला ने कहा कि PM  ने न केवल टीकों के निर्यात को फिर से शुरू करने की घोषणा की

बल्कि क्वाड के अनुरोध पर प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत जानसन एंड जानसन वैक्सीन की 80 लाख खुराक उपलब्ध कराएगा। यह वैक्सीन निर्यात को फिर से शुरू करने के हमारे निर्णय के अनुरूप अक्टूबर के अंत तक तैयार हो जाएगा। क्वाड देश वैक्सीन के लिए भुगतान करेंगे और भारत इसका एक निश्चित हिस्सा वहन करेगा।

johnson and johnson vaccine: क्वाड समिट में अपनी शुरुआती टिप्पणी में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि क्वाड वैक्सीन पहल से इंडो-पैसिफिक देशों को मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि दुनिया कोविड-19 से जूझ रही है और क्वाड सदस्य मानवता के हित में एक बार फिर साथ आए हैं। मार्च में भारत-अमेरिका-जापान-ऑस्ट्रेलिया (क्वाड) ने इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में वर्तमान और भविष्य की किसी भी महामारी की स्थिति से निपटने के लिए अपनी तरह की पहली संयुक्त वैक्सीन आपूर्ति श्रृंखला बनाने का फैसला किया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन की मेजबानी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को आस्ट्रेलिया और जापान के अपने समकक्षों स्काट मारिसन व योशिहिदे सुगा के साथ क्वाड बैठक में हिस्सा लिया। प्रधानमंत्री ने कहा, उनका दृढ़ विश्वास है कि चार देशों का यह समूह विश्व कल्याण के लिए ताकत के रूप में काम करेगा और हिंद-प्रशांत क्षेत्र समेत पूरे विश्व में शांति और समृद्धि सुनिश्चित करेगा।

PM ने कहा कि क्वाड की वैक्सीन पहल से हिंद-प्रशांत देशों को मदद मिलेगी

बैठक की शुरुआत करते हुए बाइडन ने कहा कि कोरोना से लेकर जलवायु तक की साझा चुनौतियों से निपटने के लिए चार लोकतंत्र साथ आए हैं। इस समूह के लोकतांत्रिक साझीदार हैं जिनके साझा वैश्विक विचार हैं और भविष्य के लिए साझा विजन है। हमें पता है कि चीजों को कैसे करना है और हम चुनौती के लिए तैयार है। अपने संक्षिप्त भाषण में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि क्वाड की वैक्सीन पहल से हिंद-प्रशांत देशों को मदद मिलेगी।

PM Cares Fund: से आक्सीजन प्लांट का तीर्थनगरी से उद्घाटन कर सकते हैं पीएम

Leave a Reply