कोविड-19 के मरीजों के उपचार में काम आने वाले मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेटर इक्विपमेंट विकसित

कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए डीएसटी से वित्तपोषित कंपनी बढ़ाएगी ऑक्सीजन से भरपूर हवा की आपूर्ति करने वाली डिवाइस का उत्पादन डीएसटी सचिव प्रोफेसर आशुतोष शर्मा ने कहा, “श्वसन से जुड़ी बीमारियों में खासा सहायक है यह नवाचार”

0
377

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) द्वारा सीएसआईआर-राष्ट्रीय रासायनिक प्रयोगशाला, पुणे से लाइसेंस प्राप्त स्वामित्व प्रौद्योगिकी पर आधारित एक उपोत्पाद कंपनी जेनरिच मेम्ब्रेन्स को मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेटर इक्विपमेंट (एमओई) का उत्पादन बढ़ाने के लिए वित्तपोषण किया जा रहा है।

अन्य समाचार:- कोविड-19 के प्रबंधन के लिए इंटीग्रेटेड गवर्नमेंट आनलाइन (iGOT) प्रशिक्षण पोर्टल शुरु

जेनरिच मेम्ब्रेन्स ने कोविड-19 के मरीजों के उपचार में काम आने वाले मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेटर इक्विपमेंट को विकसित किया है। नवीन, स्वदेशी हॉलो-फाइबर मेम्ब्रेन प्रौद्योगिकी पर आधारित एमओई दबाव (4-7 बार, तेल मुक्त कम्प्रेशर का उपयोग करते हुए) में 35 प्रतिशत तक ऑक्सीजन बढ़ाता है।

यह उत्पाद वायु एक प्रकार से चिकित्सा ग्रेड की होती है

इस उपकरण में मेम्ब्रेन कार्ट्रिज, तेल मुक्त कम्प्रेशर, आउटपुट फ्लोमीटर, ह्युमिडिफायर बोतल, नासल कैनुला और ट्यूबिंग व फिटिंग्स शामिल हैं। कम्प्रेशर से संपीडित (कम्प्रेस्ड), स्वच्छ (फिल्टर) हवा को मेम्ब्रेन कार्ट्रिज में भरा जाता है, जो भारी दबाव के साथ नाइट्रोजन की तुलना में ऑक्सीजन की प्रचुर मात्रा वाली ऑक्सीजन की पेशकश करता है।

अन्य समाचार:- केदारनाथ 29 अप्रैल,बदरीनाथ धाम के कपाट 30 अप्रैल को खुलेंगे

मेम्ब्रेन कार्ट्रिज कुल मिलाकर ऑक्सीजन और नाइट्रोजन में अंतर करने में सक्षम है, जो वायरस, बैक्टीरिया और कणयुक्त तत्वों को गुजरने से रोकता है। यह उत्पाद वायु एक प्रकार से चिकित्सा ग्रेड की होती है।

यह डिवाइस सुरक्षित है, इसके परिचालन के लिए प्रशिक्षित कार्यबल की जरूरत नहीं होती है और इसके न्यूनतम रखरखाव की जरूरत होती है। यह पोर्टेबल, कॉम्पैक्ट और प्लग-एंड-प्ले (यानी लगाओ और चलाओ) की सुविधा के साथ आती है। यह किसी भी जगह तेजी से भरपूर ऑक्सीजन से युक्त हवा उपलब्ध कराती है।

अन्य समाचार:- भारत-अमेरिका साझेदारी इससे पहले कभी भी इतनी अधिक मजबूत नहीं रही है:प्रधानमंत्री

LEAVE A REPLY