Delhi Election: जानिए- क्यों भाजपा-AAP 14 जनवरी तक टाल सकते हैं उम्मीदारों का एलान

0
478

नई दिल्ली। Delhi Assembly Elecion 2020 : दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के लिए भारतीय निर्वाचन आयोग (Election Commission of India) ने 8 फरवरी को मतदान और 11 फरवरी को मतों की गिनती की तारीख तय की है। वहीं, चुनाव आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार, 14 जनवरी से अधिसूचना जारी हो जाएगी और इसी तारीख से प्रत्याशियों का नामांकन भी शुरू हो जाएगा। वहीं, दूसरी ओर यह भी एक सच्चाई है कि खरमास चलने के कारण शायद ही कोई पार्टी अपने उम्मीदवारों का एलान करे और वह उम्मीदवार नामांकन करने पहुंच जाए।

दरअसल, हिंदू धर्म के मुताबिक किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत शुभ मुहूर्त भी देखा जाता है। फिलहाल खरमास चल रहा है। यह पिछले महीने 16 दिसंबर से शुरू हुआ है और यह इस महीने की 14 जनवरी तक चलेगा। ऐसे में माना जा रहा है कि दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी के साथ मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी और कांंग्रेस भी शायद ही अपने उम्मीदवारों को एलान करें।

क्या होता है खरमास

बता दें कि हिंदू धर्म में मान्यता है कि खरमास के दौरान शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं और इस दौरान किए गए काम अपूर्ण होते हैं। ऐसे में हर कोई चाहता है कि उसका ठाना काम सही ढंग से पूर्ण हो और कोई प्राकृतिक बाधा तक नहीं आए। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, शरद ऋतु में पूरा एक महीने का अंतराल मांगलिक कार्यों के लिए पूरी तरीके से प्रतिबंधित होता है। इसे ही खरमास और कुछ जगहों पर तो इसे खलमास भी कहा जाता है। इस वर्ष खरमास 16 दिसंबर, 2019 से शुरू हुआ है और यह आगामी 14 जनवरी तक चलेगा।

मान्यता के अनुसार आगामी 15 जनवरी को सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेगा। मकर संक्रांति के दिन से ही सूर्य दक्षिणायन से उत्तरायण होते हैं, इस दिन से देवताओं का दिन प्रारंभ होता है। फिर शुभ दिन की शुरुआत हो जाता है। ऐसे में माना जा जा रहा है कि 15 जनवरी के बाद ही सभी राजनीतिक दल दिल्ली की सभी 70 विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों को एलान करें और फिर ये उम्मीदवार पर्चे दाखिल करें।

Leave a Reply