Congress Jaipur Rally : जयपुर रैली महंगाई के खिलाफ या राहुल गांधी की रिलांचिंग

जयपुर। Congress Jaipur Rally :  कांग्रेस महंगाई के खिलाफ रविवार को जयपुर में बड़ी रैली कर रही है। रैली के केंद्र में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को रखा गया है। पार्टी नेताओं का कहना है कि यह रैली राहुल गांधी की पार्टी अध्यक्ष के पद पर रिलांचिंग है। जयपुर सहित पूरे राज्य और राष्ट्रीय राजमार्गों पर रैली के होर्डिंग्स, पोस्टर और बैनर में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से ज्यादा राहुल गांधी को हाईलाइट किया गया है। राहुल गांधी की फोटो सोनिया, महासचिव प्रियंका गांधी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बड़ी लगाई गई है। राहुल के बड़े-बड़े कटआउट लगाए गए हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं से भी कहा गया है कि वह नारेबाजी में राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने की मांग करें। साथ ही, महंगाई के खिलाफ केंद्र सरकार के खिलाफ भी नारे लगाएं।

BJP booth conference : को जेपी नड्डा ने किया संबोधित

2019 में राहुल ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था

साल, 2019 में लोकसभा चुनाव में हार के बाद राहुल ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद से सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर जिम्मेदारी संभाल रही हैं। एक राष्ट्रीय पदाधिकारी ने बताया कि कांग्रेस ने अक्टूबर में संगठनात्मक चुनाव का कार्यक्रम घोषित कर दिया है। अगले साल अगस्त या सितंबर में राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव होना है। ऐसे में राहुल के लिए जयपुर से माहौल बनाया जा रहा है। महंगाई के खिलाफ कांग्रेस की इस रैली को राहुल की रिलांचिंग इसलिए भी मानी जा रही है, क्योंकि साल, 2013 में जयपुर में हुए चिंतन शिविर में राहुल को उपाध्यक्ष के तौर पर जिम्मेदारी दी गई थी।

Congress Jaipur Rally यूपीए की कमान को लेकर

कांग्रेस की रैली ऐसे वक्त में हो रही है, जब संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) में सबसे बड़ी पार्टी की हैसियत को चुनौती मिल रही है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी यूपीए में कांग्रेस के नेतृत्व को चुनौती दे रही है। ऐसे में रविवार को होने वाली रैली के माध्यम से कांग्रेस यह साबित करने की कोशिश करेगी कि यूपीए की नेतृत्व क्षमता कांग्रेस ही है। यह कोशिश करेगी कि भाजपा को चुनौती देने में राहुल और कांग्रेस ही सक्षम है।

राहुल को अध्यक्ष बनाने की मांग करेंगे नेता

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राहुल को फिर कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने की कमान अपने हाथ में ली है। इसके लिए वह पार्टी नेताओं के बीच लांबिंग कर रहे हैं। पूर्व पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट अपने स्तर पर राहुल को पार्टी की कमान संभलाने की रणनीति बना रहे हैं। पार्टी नेताओं का एक वर्ग राहुल को अध्यक्ष बनाने बनाने की पैरवी करेगा। रविवार को होने वाली रैली में पार्टी नेता राहुल को अध्यक्ष बनाने की मांग प्रमुखता से उठाएंगे। उधर, सीएम अशोक गहलोत ने रैली की तैयारियों से सचिन पायलट और उनके समर्थक मंत्रियों व पार्टी पदाधिकारियों को दूर कर रखा है।

Omicron update : महाराष्ट्र में नए मामलों से बढ़ी चिंता, मुंबई में धारा 144 लागू

Leave a Reply