तमिलनाडु में नागरिकता संशोधन कानून का विरोध जारी, महिला कांग्रेस सदस्यों और पुलिस के बीच झड़प

0
283

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ अभी भी देश के कुछ हिस्सों में विरोध प्रदर्शन जारी है। तमिलनाडु के मदुराई में नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान हजारों की संख्या में लोग इकट्ठा हुए। वहीं दूसरी ओर महिला कांग्रेस समर्थकों ने कांग्रेस के चेन्नई स्थित कार्यालय में रंगोली बनाकर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस और कांग्रेस समर्थकों के बीच हाथापाई भी हुई। मदुरै में भी कांग्रेस की ओर से बड़ी जनसभा की जा रही है।

परिवहन, नगर निगम, उद्योग, निर्माण कार्य से जुड़े विभागों को दिए निर्देश: उत्पल कुमार सिंह

तमिलनाडु में शनिवार को भी नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध में मुस्लिम संगठनों तमिलनाडु तौहीद जमात के सैकड़ों सदस्यों ने मुस्लिम पहनावे में परिवारों के साथ विरोध प्रदर्शव किया था। तब विरोधियों ने लंदुर अदालत के पास इकट्ठा होकर, नारे लगाए और तख्तियां पार्टी के झंडे लेकर नागरिकता अधिनियम को वापस लेने की मांग की। हालांकि पुलिस ने प्रदर्शन में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की थी।

वहीं पिछले हफ्ते की शुरुआत में राज्य विधानसभा में मुख्य विपक्षी दल डीएमके ने अपने समर्थकों के साथ नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ एक नहा रैली का आयोजन किया था। इतना ही नहीं केंद्र सरकार को चेतावनी दी थी कि आगे भी इस तरह के आंदोलन हो सकते है। गौरतलब है कि कर्नाटक तमिलनाडु, समेत दक्षिण भारत के कई हिस्सों में नागरिकता कानून के खिलाफ लोगों का प्रदर्शन लगातार जारी है। पिछले दिनों मेंगलुरू समेत कर्नाटक के शिवमोगा जिले में भी कई लोगों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की थी।

सॉफ्टवेयर के जरिए लोगों की पहचान

वहीं, नागरिकता बिल को लेकर कुछ दिन पहले कई राज्यों में काफी हिंसा भी हुई। अब हिंसा में शामिल असामाजिक तत्वों और अपराधियों की पहचान फेस रिकग्नीशन यानी चेहरे की पहचान करने वाले सॉफ्टवेयर के जरिए की जा रही है। बता दें कि ये फेस रिकग्नीशन सॉफ्टवेयर दो तरह से काम करता है। पहला लाइव फीड से और दूसरा रिकॉर्ड हुए वीडियो के जरिए। दिल्ली, पुलिस ने डेढ लाख हिस्ट्रीशीटरों का डाटा तैयार कर लिया है।

भारतीय टीम के लिए अगला साल यानी 2020 काफी व्यस्त,एक से एक बड़ा टूर्नामेंट है इसमें शामिल

 

LEAVE A REPLY