अरविंद केजरीवाल चंडीगढ़ पहुंचे, सस्‍ती बिजली का खेला दाव

0
370

चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने चंडीगढ़ में अगले विधानसभा चुनाव को लेकर बिजली के मुद्दे पर दाव खेला। यहां मीडिया से रूबरू होकर उन्‍होंने बिजली को लेकर तीन बड़ी घोषणा कीं। उन्‍होंने पंजाब में बिजली संकट और महंगी बिजली का मुद्दा उठाते हुए कहा कि राज्‍य में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी तो दिल्‍ली की तर्ज पर सस्‍ती बिजली दी जाएगी। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य में हर घर को 300 यूनिट तक बिजली मुफ्त दी जाएगी। बिजली के पुराने बिल माफ किए जाएंगे और राज्‍य में 24 घंटे बिजली दी जाएगी।

आतंकी ड्रोन्‍स से भयभीत हुई दुनिया, आखिर क्‍या होते हैं ड्रोन्‍स

उन्‍होंने कहा कि यहां निजी थर्मल कंप‍नियों और पंजाब सरकार के बीच साठगांठ के कारण राज्‍य में बिजली महंगी है। पंजाब में बिजली बनती है और राज्‍य की जरूरत से अधिक बिजली बन रही है, लेकिन देश में यहां बिजली सबसे महंगी है। दिल्‍ली में बिजली नहीं बनती है, लेकिन वहां देश में सबसे सस्‍ती बिजली है।

उन्‍होंने कहा कि

महंगी बिजली के कारण लोगों का बुरा हाल हो रहा है। लोगों की कमाई का करीब आधा हिस्‍सा बिजली का बिल देने में चली जाती हैं। इससे महिलाएं सबसे ज्‍यादा दुखी व परेशान हैं। उनको समझ में नहीं आ रहा है कि घर कैसे चलाएं।

आदमी पार्टी की सरकार बनी तो राज्‍य में हर घर को 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली दी जाएगी

उन्‍होंने कहा कि पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी तो राज्‍य में हर घर को 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली दी जाएगी। दिल्‍ली में हम 200 यूनिट बिजली दे रहे हैं और 200 से 400 यूनिट बिजली आधी रेट पर दे रहे हैं। इसी कारण हम पंजाब में 300 यूनिट में फ्री बिजली देंगे। इससे 77 से 80 लोगों का बिजली बिल शून्‍य हो जाएगा। बिजली आएगी और 24 घंटे आएगी, लेकिन बिजली बिल नहीं आएगा।

केजरीवाल ने कहा कि

पंजाब में बिजली के अनाप-शनाप बिल आ रहे हैं। दिल्‍ली में भी हम 2013 में पहली बार सत्‍ता में आए तो उससे पहले बिजली के अनाप-शनाप बिजली कि बिल आ रहे थे। हमने दिल्‍ली में इसे दूर किया और अब पंजाब में भी ऐसा की करना है। पंजाब के एक पिंड (गांव) में एक घर में एक पंखा और बल्‍ब लगा था और उसका बिल 50900 रुपये आया। आप के सत्‍ता में आने के बाद सभी बकाया बिजली बिल माफ कर दिए जाएंगे और जितने कनेक्‍शन काटे गए हैं सभी बहाल होंगे।

इसके साथ ही राज्‍य में 24 घंटे बिजली दी जाएगी। उन्‍होंने कहा कि बिजली को लेकर ये हमारी तीन बड़ी घोषणाएं हैं। ये कैप्‍टन अमरिंदर सिंह की घोषणा नहीं हैं, बल्कि अरविंद केजरीवाल की घोषणाएं हैं। ये हर हाल में पूरी होंगी। पंजाब में आम आदमी की सरकार बनते ही पहली कलम से हर घर को 300 यूनिट बिजली की व्‍यवस्‍था को लागू किया जाएगा। इसके साथ ही पुराने बिजली बिल माफ करने का आदेश जारी किया जाएगा।

पंजाब मं 24 घंटे बिजली देने का सवाल है तो इसमें कुछ वक्‍त लगेगा

केजरीवाल ने कहा कि पंजाब मं 24 घंटे बिजली देने का सवाल है तो इसमें कुछ वक्‍त लगेगा। दिल्‍ली में भी इसमें करीब ढ़ाई साल का समय लगा था, क्‍योंकि बिजली सप्‍लाई के बुनियादी ढ़ांचे में बदलाव करना पड़ा। एक समय गर्मियों के समय में दिल्‍ली में रात में छह-सात घंटे के कट लगा करते थे, लेकिन आज 24 घंटे बिजली आती है। पंजाब में भी बुनियादी ढ़ांचे में बदलाव लाना पड़ेगा। इसमें तीन से चार साल का समय लगेगा। इसके बाद राज्‍य में निर्बाध 24 घंटे बिजली आएगी।

केजरीवाल के चंडीगढ़ दौरे के साथ ही पंजाब में बिजली की राजनीति तेज

दूसरी ओर, अरविंद केजरीवाल के चंडीगढ़ दौरे के साथ ही पंजाब में बिजली की राजनीति तेज हो गई है। ऐसे में पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में बिजली प्रमुख मुद्दा बनता दिख रहा है। मंगलवार सुबह शिरोमणि अकाली दल (SAD) के प्रधान के मीडिया सलाहकार हरचरण बैंस ने एक ट्वीट करके केजरीवाल पर सवाल दागे हैं कि क्या सभी पंजाबियों को प्रति महीना 200 यूनिट निशुल्क बिजली मिलेगी या दो महीने के बिल में 200 यूनिट की छूट दी जाएगी।

बैंस ने कहा है कि क्या अगर दो सौ यूनिट से एक भी यूनिट ज्यादा खर्च हुआ तो क्या आप पूरा बिल चार्ज करोगे, जैसा कि दिल्ली में कर रहे हो। कितने पंजाबियों के घरों में दो सौ यूनिट से कम खपत है। उन्होंने कहा कि सुखबीर बादल ने जो लोगों से वादा किया है कि सभी को बिल में 50 फीसदी की रिआयत दी जाएगी, वह आपके प्लान की तुलना में ज्यादा अच्छा है।

आतंकी ड्रोन्‍स से भयभीत हुई दुनिया, आखिर क्‍या होते हैं ड्रोन्‍स

Leave a Reply